VIDEO : लियोनेल मेस्सी से मिलने केरल का फुटबॉल प्रशंसक साइकिल से पहुंचा रूस
Click for full image

VIDEO : लियोनेल मेस्सी से मिलने केरल का फुटबॉल प्रशंसक साइकिल से पहुंचा रूस

नई दिल्ली : केरल राज्य फुटबॉल पागल प्रशंसकों के लिए जाना जाता है जो खेल के प्रति समर्पण साबित करने के लिए किसी भी लंबाई में जाते हैं। इस सूची में एक नया जोड़ आया है वो हैं क्लिफिन फ्रांसिस। केरल के चेरथला गांव के रहने वाले मेस्सी प्रशंसक दुबई से 26 जून को फ्रांस और डेनमार्क के बीच फीफा विश्व कप 2018 मैच देखने के लिए समय पर मॉस्को पहुंच गए। स्थानीय समाचार पत्र मलयाला मनोरमा ने बताया कि क्लिफिन ने कोच्चि में इच्छुक बैंक अधिकारियों को गणित कक्षाओं की पेशकश करके अपनी संपूर्ण यात्रा के लिए धन जुटाया ।

फुटबाल विश्व कप का खुमार वैसे तो पूरे केरल पर छाया हुआ है लेकिन एक प्रशंसक ऐसा भी है जो साइकिल से विश्व कप के मैचों का लुत्फ उठाने और अर्जेंटीना के महान खिलाड़ी लियोनेल मेस्सी से मिलने के सपने के साथ रूस पहुंच गया है। क्लिफिन फ्रांसिस (28 वर्ष) केरल से 23 फरवरी को दुबई गए और वहां से साइकिल खरीद कर ईरान के दक्षिण पूर्व में स्थित बंदरगाह बंदर अब्बास शहर पहुंचे जहां से उन्होंने रूस के लिए साइकिल यात्रा शुरू की।

रूस के तामबोव पहुंचे फ्रांसिस ने पीटीआई से कहा- मैं बहुत खुश हुं। इस यात्रा में चार महीने लग गए। फ्रांसिस ने बताया कि उन्होंने 26 जून को फ्रांस और डेनमार्क के बीच होने वाले मैच का टिकट खरीदा है जिसे देखने का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। पेशे से सॉफ्टवेयर इंजीनियर फ्रांसिस ने कहा कि इस यात्रा के दौरान उनका अनुभव उन्हें अच्छा और बुरा दोनों तरह का रहा। उन्होंने कहा- हर दिन आप नए लोगों से मिलते हैं, नई दुनिया देखते है, नई संस्कृति को महसूस करते हैं।

फ्रांसिस ने बताया कि वीजा सहित दूसरे कागजात पूरे होने के बाद भी उन्हें अजरबेजान से होते हुए जाॢजया जाने के अनुमति नहीं मिली जिससे उन्हें दूसरा रास्ता अपनाना पड़ा। उन्होंने कहा, ‘‘ उनका आचरण मुझे बुरा लगा क्योंकि जर्मनी के साइकिल चालकों को जाने दिया गया। लेकिन ऐसा भी समय था जब मुझे लोगों का साथ मिला। कई लोगों ने मुझे अपने घर में रहने दिया और खाना भी खिलाया।

फ्रांसिस ने कहा कि फुटबाल हमेशा से उनका पहला प्यार रहा है और विश्व कप का मैच देखना लंबे समय से उनका सपना रहा है। फ्रांसिस के चाचा साजी ने कोच्चि से पीटीआई को बताया कि बी. टेक की डिग्री लेने के बाद फ्रांसिस ने इंफोपार्क में कुछ समय के लिए काम किया फिर उसने एक कोचिंग स्कूल में गणित के अध्यापक के तौर पर पढाने का काम किया। अपने सपने को पूरा करने के लिए वह हमेशा कड़ी मेहनत करता है और कभी छुट्टी नहीं लेता था। रिश्तेदारों ने भी उसकी आॢथक मदद की है।

फ्रांसिस ने बताया कि साइकिल यात्रा के दौरान उसने अपना जन्मदिन ईरान के मेमेह में स्थानीय लोगों के साथ मनाया जो वह कभी नहीं भूलेगा। इस दौरान उन्हें खाने में कबाब और ‘ईस्ता ’ (स्थानीय पेय) मिला। उन्होंने बताया कि स्थानीय लोग राज कपूर, अमिताभ बच्चन और मिथुन चक्रवर्ती जैसे भारतीय फिल्मी सितारों के बड़े प्रशंसक है तो वहीं युवा सलमान खान और ऐश्वर्या राय के प्रशंसक हैं।

फ्रांसिस को उम्मीद है कि वह 21 जून को मास्को पहुंच जाएगा और मेस्सी से मिलने का उसका सपना पूरा होगा। उन्होंने कहा- मैं इतनी दूर तक आया हूं, मैं आशावादी हूं। मेरी ख्वाहिश मेस्सी से मिलने की है। मुझे नहीं पता कि यह संभव होगा या नहीं। मैं उनका बहुत बड़ा प्रशंसक हूं।

Top Stories