Thursday , December 14 2017

इंग्‍लैंड सीरीज हारने के बाद एलेस्‍टर कुक की कप्तानी खतरे में, माइकल वॉन ने कप्‍तानी पर उठाए सवाल

लंदन: भारत के हाथों टेस्ट सीरीज में 4-0 से मिली हार के बाद एलेस्‍टर कुक की कप्तानी की काफी आलोचना हो रही है और पूर्व कप्तान माइकल वॉन का मानना है कि टीम को इस सलामी बल्लेबाज की ताकत और रनों की जरूरत है, नेतृत्व की नहीं.

वॉन ने डेली टेलीग्रॉफ में अपने कालम में लिखा,‘जब आप कप्तान हैं और टीम हार रही है तो आप खेल का मजा नहीं ले सकते. आप सुबह उठते हैं और आपको खेलने की इच्छा नहीं करती . कुक ने खेलने की वह उर्जा और इच्छाशक्ति फिर हासिल कर ली है. टीम को उसकी ताकत और रनों की जरूरत है, कप्तानी की नहीं.’ उन्होंने कहा कि कुक को खुद से पूछना चाहिए कि क्या वह कप्तानी के लायक है.

उन्होंने कहा,‘कोई उस पर कुछ नहीं देने का आरोप नहीं लगा सकता लेकिन लगातार हार रही टीम को अगले सत्र में दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज ले जाना कहां तक सही है. उसे खुद से सवाल करना होगा कि क्या उसे कप्तानी करनी चाहिए.’ उन्होंने कहा,‘यदि उसे लगता है कि वही सही कप्तान है तो उसे सभी प्रारूपों में खेलने वाले खिलाड़ियों को बैठाकर पूछना चाहिए कि टीम को सही दिशा में कैसे ले जाया जाए.’

गौरतलब है कि इंग्‍लैंड के पूर्व कप्‍तान माइकल वॉन इससे पहले आलोचना को नए स्तर पर ले गए थे जब अगस्‍त 2014 में ओवल टेस्‍ट में महेंद्र सिंह धोनी और उनकी टीम की शिकस्त के बाद उन्‍होंने अपने ट्विटर पेज पर ‘सफेद झंडा’ पोस्ट किया और इसे भारतीय क्रिकेट का नया झंडा करार दिया. भारत को ओवल में पांचवें और अंतिम टेस्ट में पारी और 244 रन से शिकस्त का सामना करना पड़ा, जिससे इंग्लैंड की टीम 3-1 से सीरीज जीतने में सफल रही थी.

वॉन ने उस समय भारत के प्रशंसकों की भी आलोचना की थी. उन्‍होंने ट्वीट किया था, ‘भारतीय क्रिकेट प्रशंसकों ने यह करारी हार स्वीकार कर ली है.. आपकी टीम ने बिलकुल भी अच्छा प्रदर्शन नहीं किया.’ पांचवें और अंतिम टेस्ट के तीसरे दिन 338 रन से पिछड़ने के बाद भारतीय टीम दूसरी पारी में सिर्फ 94 रन पर ढेर हो गई. भारत की इस हार के दौरान हालांकि वॉन ट्वीट करके जश्न मनाते रहे. वॉन ने तब लिखा था, ‘इंग्लैंड ने शानदार प्रदर्शन किया.. भारत ने निश्चित तौर पर कल घूमने के टिकट बुक करा लिए हैं. पहला टेस्ट ड्रॉ रहने के बाद भारत ने लार्डस टेस्ट जीता था, लेकिन इसके बाद टीम राह से भटक गई और उसे लगातार तीन मैचों में करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा.

TOPPOPULARRECENT