अंतराष्ट्रीय उड़ानों पर 31 जुलाई तक रोक बढ़ाई गई!

अंतराष्ट्रीय उड़ानों पर 31 जुलाई तक रोक बढ़ाई गई!

कोरोना संकट के बीच भारत ने अपनी अंतरराष्ट्रीय कमर्शियल उड़ानों पर प्रतिबंध और आगे तक बढ़ा दिया है।

 

जागरण डॉट कॉम पर छपी खबर के अनुसार, अब यह प्रतिबंध 31 जुलाई 2020 तक कमर्शियल उड़ानों पर लगाया गया है। वहीं, इसके पहले अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में यह रोक 15 जुलाई 2020 तक लगी हुई थी, जिसे सरकार ने बढ़ाकर 31 जुलाई तक कर दी है।

 

डीजीसीए के एक आदेश के अनुसार कोरोना संकट के कारण के इन उड़ानों पर लगी रोक को 31 जुलाई तक के लिए बढ़ा दिया गया है। हालांकि अंतरराष्ट्रीय कार्गो और डीजीसीए की तरफ से छूट दी गई उड़ानों पर यह नियम लागू नहीं होगा।

 

इससे पहले केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा था कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को फिर से शुरू करने के लिए भारत दूसरे देशों पर निर्भर है।

 

कुछ दिनों से ऐसी अटकलें थी कि केंद्र सरकार घरेलू उड़ानों के शुरू किए जाने के बाद अब अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को जल्द बहाल करने पर फैसला लेगी लेकिन अब इस फैसले ने इन पर विराम लगा दिया है।

 

उल्‍लेखनीय है कि कई देशों ने अपने यहां फंसे भारतीयों के लिए भारत से विमान सेवाएं शुरू करने की अपील की थी। इसके बाद भारत ने अपने नागरिकों को लाने के लिए बंदे भारत अभियान शुरू किया था।

 

विदेश मंत्रालय की मानें तो सरकार ने ‘वंदे भारत’ अभियान के तहत अब तक 3.6 लाख से अधिक भारतीयों को विदेशों से वापस लाया है।

 

कुछ दिन पहले विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कल बताया था कि कुल 5,13,047 भारतीयों ने विदेशों में भारतीय मिशनों के साथ वतन वापसी के लिए अपना अनुरोध किया है।

Top Stories