बाबरी मस्जिद जमीन का दावा छोड़ने की बात गलत है- इक़बाल अंसारी

बाबरी मस्जिद जमीन का दावा छोड़ने की बात गलत है- इक़बाल अंसारी

सुन्नी वक्फ बोर्ड को लेकर मध्यस्थता की बातें जो चल रही हैं उस बारे में मैं साफ करना चाहता हूं कि ऐसी कोई अपील नहीं की गई है।

सुप्रीम कोर्ट के मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी के वकील एम.आर. शमशाद ने एक बयान जारी कर कहा है कि सुन्नी वक्फ बोर्ड ने जमीन पर दावा छोड़ने की बात नहीं की है, ये सभी अफवाहें चल रही हैं।

आपको बताते जाए कि ये बयान सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या के रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर आखिरी सुनवाई से पहले आया है।

सुप्रीम कोर्ट में इस मामले पर आखिरी दलील शुरू हो रही है, उससे पहले मुस्लिम पक्ष के वकील ने बयान जारी कर बताया कि मैं इस मामले में पिछले काफी समय से हाशिम अंसारी, अब इकबाल अंसारी की ओर से दलीलें रख रहा हूं।

सुन्नी वक्फ बोर्ड को लेकर मध्यस्थता की बातें जो चल रही हैं उस बारे में मैं साफ करना चाहता हूं कि ऐसी कोई अपील नहीं की गई है।

बयान में वकील ने बताया है कि मुस्लिम पक्ष की ओर से कुल 6 पार्टियां ये केस लड़ रही हैं, इनमें से सुन्नी वक्फ बोर्ड एक पार्टी है। सभी पार्टियां इस मामले में अपनी ओर से दलीलें पेश कर रही हैं।

आपको बताते जाए कि सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की रोजाना सुनवाई प्रारंभ होने से पहले अदालत ने मध्यस्थता का ऑप्शन दिया था। लेकिन इसपर किसी पक्ष की सहमति नहीं बन सकी थी।

इसके बाद 6 अगस्त से इस मामले की रोजाना सुनवाई चल रही है। अदालत की ओर से कहा गया था कि अगर कोई पक्ष मध्यस्थता करना चाहता है, तो वह सीधे अदालत को बता सकता है।

Top Stories