ईरान ने फिलीस्तीन हिंसा को ‘अमानवीय कृत्य’ करार देते हुए की निंदा

ईरान ने फिलीस्तीन हिंसा को ‘अमानवीय कृत्य’ करार देते हुए की निंदा

दुबई। ईरान ने फिलीस्तीनियों के खिलाफ हालिया इजरायल हिंसा को एक ‘अमानवीय कृत्य’ करार देते हुए उसकी आलोचना की है। समाचार एजेंसी तसनीम ने ईरानी संसद के अध्यक्ष अली लारजनी के हवाले से बताया कि अमेरिका की मदद से फिलीस्तीनियों के खिलाफ इजरायल इस तरह के ‘आपराधिक’ कृत्य दोहरा रहा है।

लारजनी ने इजरायल की नीति को ‘तनाव पैदा करने वाली’ और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अपने देश के दूतावास को तेल अवीव से जेरूसलम स्थानांतरित करने के निर्णय को इस क्षेत्र की सुरक्षा और स्थिरता को कमजोर करने की इजरायली और वाशिंगटन की साजिश बताया है।

उन्होंने कहा, आतंकवादियों के कब्जे वाला तेल अवीव सिर्फ बल प्रयोग की भाषा समझता है। केवल विरोध ही पागलपन की हद तक पहुंच चुकी इजरायल की सत्ता-शक्ति को रोक सकता है।

गौरतलब है कि हजारों की संख्या में फिलिस्तीनियों ने ग्रेट मार्च ऑफ रिटर्न के पहले दिन शुक्रवार को भाग लिया था। हजारों की संख्या में मौजूद फिलिस्तीनी प्रदर्शनकारियों पर इजरायली सेना ने गोली चला दी, जिसमें करीब 15 की मौत और लगभग 1,000 घायल हो गए।

Top Stories