Tuesday , September 25 2018

ईरान: एक महीने में 18 साल से कम उम्र के तीन बच्चों को फांसी दे दी गई: ह्यूमन राइट्स वॉच

मानवधिकार के लिए काम करने वाल अंतर्राष्ट्रीय संस्था ह्यूमन राइट्स वॉच  का कहना है कि वर्ष 2018 की शुरुआत से अब तक कम से कम तीन आरोपी बच्चों को फांसी की हज़ा दी गई है। इन तीनों ने हत्या का अपराध 18 साल की उम्र से पहले किया था।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

बुधवार को ह्यूमन राइट्स वॉच द्वारा जारी किए गए बयान में  ईरानी अधिकारियों से मांग की है कि वह त्वरित बगैर किसी पेश होने के शर्त के 18 साल से कम उम्र के बच्चों को मौत की सज़ा न दें, अगर वह किसी की हत्या कर दें।

संस्था का कहना है कि 4 जनवरी को कराज की जेल में अधिकारियों ने अमीर हुसैन को एक तीन साला बच्ची के साथ दुष्कर्म और हत्या के अपराध में फांसी दी। उन्होंने यह अपराध 16 साल की उम्र में किया था। इसी तरह 15 साल की उम्र में हत्या करने अली काज़मी को भी 30 जनवरी को बश्हर जेल में फांसी दी गई।

ह्यूमन राइट्स वाच ने मुफीदी की उम्र की पुष्टि उनके आईडी कार्ड और डेथ सर्टिफिकेट से की है। रिपोर्ट के मुताबिक उसी तारिख को उत्तर ईरान में बूशहर नामी जेल में महबूब मुफीदी नामी लड़की को फांसी दी गई, जिन्होंने 2014 में अपने पति की हत्या की थी, उस समय उसकी महबूब की उम्र 17 साल थी।

TOPPOPULARRECENT