Saturday , July 21 2018

बकरीद पर नमाज के बाद गले ना मिलें नमाजी- मौलाना खालिद रशीद फिरंगिमहली

स्वाइन फ्लू के खतरे के मददेनज़र सुन्नी मौलाना खालिद रशीद फिरंगिमहली ने एक फरमान जारी कर कहा है कि इस बार बकरीद की नमाज़ अता करने के बाद एक दूसरे से गले ना मिलें नमाज़ी। मौलाना  ने अपील जारी की है कि बकरीद की नमाज़ के बाद गले न मिलें बल्कि सलाम कर  के मुबारकबाद दें क्योंकि गले मिलने से स्वाइन फ्लू का ख़तरा है। वहीं शिया मौलाना कल्बे जव्वाद ने कहा है कि गले मिलते वक़्त मास्क लगाएं। दरअसल उत्तर प्रदेश के 75 ज़िलों में से 66 में स्वाइन फ्लू के मरीज़ मिले हैं।

पर्सनल लॉ बोर्ड के मेंबर और माशूर सुन्नी मौलाना खालिद रशीद फिरंगिमहली ने NDTV से कहा, “उत्तर प्रदेश की 20 फीसद आबादी मुस्लिम है। इनमें से ज़्यादातर लोग ईद में नमाज़ पढ़ते हैं और एक दूसरे के गले मिलते हैं। चूंकि हाथ मिलाने या गले लगने से स्वाइन फ्लू के इन्फेक्शन का ख़तरा है, इसलिए ईद की नमाज़ के बाद गले मिलने के बजाए सिर्फ़ सलाम कर के मुबारकबाद दें। खुदा भी अपने बंदों की हिफ़ाज़त चाहता है।

TOPPOPULARRECENT