Wednesday , January 24 2018

जम्मू में लगे विवादित पोस्टर, रोहिंग्या और बांग्लादेशी मुसलमानों को राज्य से निकलने के लिए कहा गया

जम्मू-कश्मीर: जम्मू शहर में रह रहे शरणार्थियों को शहर छोड़कर जाने के लिए मजबूर किया जा रहा है। जम्मू में रोहिंग्या और बांग्लादेश से आये मुसलामानों को राज्य से बाहर निकालने के लिए पूरे इलाके में “वेक अप जम्मू” टाइटल वाले पोस्टर लगाए जा रहे हैं। इन पोस्टर में जम्मू वासियों से अपील की गई है कि अगर वह देश का इतिहास, संस्कृति और डोगरा समाज का अस्तित्व खत्म नहीं होने देना चाहते तो अब हमें एकजुट होना होगा।

पोस्टर में लिखा है कि लगातार जम्मू में आकर बस रहे शरणार्थियों के कारण हमारा समाज खतरे में है। पोस्टर पर जम्मू-कश्मीर नेशनल पैंथर्स पार्टी के चेयरमैन हर्ष देव सिंह की तस्वीर नजर आ रही है।

उनका कहना है कि आज जम्मू में पिछले काफी वक़्त से बसे डोगरा समाज के अस्तित्व बचाये रखने के लिए बाहरी लोगों को यहाँ बसने से रोकना बहुत जरुरी हो गया है। क्योंकि उनके यहां बसने से समाज की पहचान खतरे में पड़ गई है।

गौरतलब है कि सरकारी आंकड़ो के मुताबिक 13, 400 शरणार्थी राज्य में रह रहे हैं लेकिन असल में इन आंकड़ों से कई ज्यादा तादाद में यहाँ रोहिंग्या और बांग्लादेशी मुसलमान रह रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT