Friday , December 15 2017

जम्मू-कश्मीरः शिवसेना और बजरंगदल के कार्यकर्ताओं की लाल चौक पर तिरंगा फहराने की कोशिश नाकाम

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर के व्यावसायिक केंद्र में स्थित ऐतिहासिक घंटाघर पर तिरंगा फहराने के लिए आने वाले शिवसेना और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को बुधवार की सुबह यहां की राज्य पुलिस ने सुरक्षा के लिए हिरासत में ले लिया।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

तिरंगा लहराने की मकसद से आने वाले ये शिवसेना और बजरंगद्ल के कार्यकर्ता टोलियों के रूप में ऐतिहासिक लाल चौक पहुंचे। शिवसेना के जम्मू इकाई ने घोषणा कर रखा था कि पार्टी से जुड़े कार्यकर्ता ऐतिहासिक लाल चौक जाकर वहां तिरंगा लहराएँगे। शिवसेना ने लाल चौक में तिरंगा फहराने का निर्णय नेशनल कांफ्रेंस अध्यक्ष के बयान कि ‘पाकिस्तान आयोजित कश्मीर पर हाथ डालने से पहले लाल चौक में तिरंगा फहराकर दिखाओ को चैलेंज के तौर पर लेते हुए लिया था।

सूत्रों ने यूएनआई को बताया कि शिवसेना की 9 सदस्यीय टीम ने मंगलवार की सुबह राजधानी जम्मू से रवाना होकर शाम के समय यहां पहुंचे। उन्होंने बताया कि लोगों के आक्रोश से बचने के लिए टीम में शामिल सदस्य बुधवार की सुबह रीगल चौल में स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) कार्यालय के बाहर दिखाई दिए और शिवसेना जिंदाबाद, भारत जिंदाबाद, भारत माता की जय और वन्देमातरम का नारा लगते हुए ऐतिहासिक लाल चौक पर पहुंचे।

सूत्रों ने बताया कि शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने तिरंगा फहराने की कोशिश सुबह उस समय की जब उस व्यापार केंद्र में सारी दुकानें बंद थी और न ही कोई नागरिक वहां दिखाई दे रहे थे। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सुरक्षा संबंधी चिंताओं की वजह से शिवसेना के कार्यकर्ताओं को तिरंगा फहराने से पहले ही हिरासत में लिया गया।

TOPPOPULARRECENT