‘PRESS’ लिखा होने के बावजूद इजरायली सेनाओं ने फ़िलिस्तीनी पत्रकार को मारी गोली, हुई मौत

‘PRESS’ लिखा होने के बावजूद इजरायली सेनाओं ने फ़िलिस्तीनी पत्रकार को मारी गोली, हुई मौत
Click for full image
30 साल के एक पुराने फिलिस्तीनी पत्रकार यासिर मुर्तजा को 6 अप्रैल, 2018 को खुजा, दक्षिणी गाजा पट्टी में इज़राइली सेना ने पेट में गोली मार दी। बाद में उसके घावों की वजह से मृत्यु हो गई

गाजा : गाजा सीमा पर एक बड़े पैमाने पर प्रदर्शन के दौरान इजरायली सेना द्वारा की गई गोलीबारी के बाद एक फिलीस्तीनी पत्रकार को इज़राइली सेना द्वारा पेट में गोली मार दी गई जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई। फ़िलिस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक गाजा स्थित ऐन मीडिया एजेंसी के एक फोटोग्राफर यासिर मुर्तजा को शुक्रवार को गाजा पट्टी के दक्षिण में खुजा में पेट में गोली मार दी गई थी, उसके बाद उसकी मौत हो गई। 30 साल के मुर्तजा “PRESS” शब्द के साथ एक नीले रंग का जैकेट पहना हुआ था उसके बावजूद उसे मारा गया जो संयुक्त राष्ट्र संकल्प का खुला उलंघन है।

फिलिस्तीनी पत्रकार यासिर मुर्तजा
इस घटना के दृश्य पर एक फोटोग्राफर होसॉम सलेम ने शुक्रवार को अल जजीरा को बताया कि उन्होंने इजरायली सेनाओं द्वारा गोली मार दी थी, उसके बाद मुर्तजा को जमीन पर गिर गए। सलेम ने कहा, “जब हम गोलीबारी की आवाज़ सुनाते थे, तब यासिर अपने कैमरे के साथ फिल्माने लगता था।” और जब वह जमीन पर गिर गया तब कहा, ‘मुझे गोली मार दी गई है, मुझे गोली मार दी गई है।’
फिलिस्तीनी पत्रकार यासिर मुर्तजा एक्शन में
फ़िलिस्तीनी पत्रकार सिंडिकेट ने कहा कि शुक्रवार के विरोध में सात अन्य पत्रकार घायल हो गए थे, जिसमें उन्होंने इजरायल सेना द्वारा किए गए “जानलेवा अपराधों” के रूप में वर्णित किया था। सिंडिकेट ने पत्रकार खलील अबो आधारा की तस्वीरें पोस्ट कीं, जिसे शुक्रवार को गाजा के विरोध के दौरान कवर किया था।

पत्रकारिता संघ ने मुर्तजा के अंतिम संस्कार में सामूहिक भागीदारी के लिए बुलाया, और 12:00 (09: 00 जीएमटी) पर कब्जा वाले वेस्ट बैंक शहर रामाल्ला में दफनाया जाएगा । उन्होंने संयुक्त राष्ट्र के लिए पत्रकारों की रक्षा के लिए तथा ठोस कदम उठाने के लिए संयुक्त राष्ट्र संकल्प 2222 को लागू करने की मांग की है। इसराइल ने सीमा पर अपने ओपेन वार की चेतावनी भी दी है कि जो लोग बाड़ को नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं उनको हमारे स्निपर टार्गेट करेगा।
6 अप्रैल, 2018 को खुजा, दक्षिणी गाजा पट्टी में इज़राइली सेना ने पेट में गोली मार दी थी, और जख्मी होने के बाद आखिरकार उसकी मौत हो गई
Top Stories