JNU में ‘कंडोम गिनने’ और लिंचिंग को सपोर्टर करने वाले ज्ञानदेव आहूजा का BJP से पत्ता कटा

JNU में ‘कंडोम गिनने’ और लिंचिंग को सपोर्टर करने वाले ज्ञानदेव आहूजा का BJP से पत्ता कटा

राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने बुधवार को अपनी दूसरी लिस्ट जारी की है, जिसमें उन्हीं की पार्टी के विवादित विधायक ज्ञानदेव आहूजा का पत्ता कट गया है। पार्टी ने इस बार ज्ञानदेव आहूजा को टिकट नहीं दिया है, जो फिलहाल अलवर जिले के रामगढ़ से विधायक है। बता दें कि यह वही ज्ञानदेव आहूजा है, जिसने 2016 में दावा किया था कि जेएनयू में रोजाना हजारों कंडोम मिलते हैं। विधायक पद पर रहते आहूजा अपने काम के बजाय ज्यादातर गलत बयानों की वजह से चर्चा में रहे हैं।

2016 ने आहुजा ने कहा था कि जेएनयू में रोजाना 3000 बीयर की बोतलें, 2000 शराब की बोतलें, 10 हजार सिगरेट के टुकड़े, 4 हजार बीड़ी, 50 हजार हड्डियों के टुकड़े, 2 हजार चिप्स के पैकेट, 3 हजार उपयोग किए गए कंडोम और 500 गर्भपात के इंजेक्शन मिलते हैं। उन्होंने कहा था कि वे हमारी बहनों और बेटियों के साथ गलत काम करते हैं। आहुज ने साथ में यह भी कहा था कि रात को 8 बजे के बाद कैंपस में स्टूडेंट्स ड्रग्स लेते हैं।

आहूजा ने इसी साल जुलाई में अपने विवादास्पद बयान में कहा था कि गोहत्‍या आतंकवाद से भी बड़ा अपराध है। उनके अनुसार, आतंकवादी 2-3 लोगों की हत्‍या करते हैं लेकिन जब एक गाय की हत्‍या की जाती है तो करोड़ों हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचती है। लिंचिंग का सपोर्ट करते हुए उन्होंने कहा था कि यदि गायों की हत्‍या की जाती रही तो लोग गुस्‍से में आएंगे और गो-तस्‍करों को इसका परिणाम भुगतना होगा। पिछले साल आहूजा ने कहा था कि तस्करी औक गो-कशी करोगे तो यूं ही मरोगे

आहुजा ने कहा था कि गुमराह करके हिंदु लड़कियों का धर्म परिवर्तन करवाया गया है। उन्होंने धमकी देते हुए कहा था कि लव जिहाद के जरिए जो लड़कियां ले जाई गई हैं, अगर मुस्लिम समाज उन्हें नहीं लौटाया तो अंजाम बुरा होगा। उन्होंने कहा था कि हमारी जो लड़कियां गई हैं, लव जिहाद का लोभ देकर ले गए हो, उसके लिए टाइम दूंगा। या तो उन्हें लाओ नहीं तो फिर 10 गईं हैं तो 20, 20 गई हैं तो 40 और’ 40 गई हैं तो 80, फिर तुम्‍हारी बेटियां सुरक्षित नहीं होंगी।

Top Stories