CBI दफ़्तर के बाहर प्रदर्शन, फिर गूंजी आवाज़- नजीब कहां है?

CBI दफ़्तर के बाहर प्रदर्शन, फिर गूंजी आवाज़- नजीब कहां है?

जेएनयू छात्र संघ ने आज (बुधवार) को नजीब अहमद की गुमशुदगी के मामले में सीबीआई की ग़ैर-संजीदा कार्रवाई के ख़िलाफ सीबीआई मुख्यालय के बाहर प्रदर्शन किया। 

प्रदर्शन के दौरान जेएनयूएसयू ने सीबीआई के ख़िलाफ नारेबाज़ी की और उसपर पक्षपात का आरोप लगाया। जेएनयूएसयू अध्यक्ष मोहित कुमार पांडेय ने कहा कि सीबीआई ने नजीब के मामले में अभी तक एक इंच की दूरी भी तय नहीं की है। 

मोहित ने सीबीआई की कार्रवाई पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि सीबीआई उन लोगों को गिरफ्तार क्यों नहीं करती जिन्होंने नजीब के लापता होने से पहले उसपर हमला किया था?

मोहित ने आगे कहा, हाई कोर्ट में सीबीआई द्वारा पेश की जा रही रिपोर्ट महेज़ औपचारिकता है। नजीब के ग़ायब होने से पहले जिन लोगों ने नजीब पर हमला किया था उन लोगों के ख़िलाफ एफआईआर अभी तक दर्ज नहीं की गई है। सीबीआई आखिर किस चीज़ का इंतेज़ार कर रही है?

बता दें कि बीते कल दिल्ली हाई कोर्ट ने इस मामले में  सीबीआइ को जमकर फटकार लगाई थी। न्यायमूर्ति जीएस सिस्तानी और न्यायमूर्ति चंद्रशेखर की खंडपीठ ने कहा कि सीबीआइ को इस मामले की जांच केवल मौजमस्ती करने के लिए नहीं दी गई है। जो स्टेटस रिपोर्ट उसने पेश की है वह महज ढ़ाई पेज का एक कबाड़ है। 17 जुलाई की स्टेटस रिपोर्ट और इसमें कुछ भी अगल नहीं है।

Top Stories