फिर बीजेपी में शामिल होकर राजनीति में सक्रिय होंगे कल्याण सिंह!

फिर बीजेपी में शामिल होकर राजनीति में सक्रिय होंगे कल्याण सिंह!

राजस्थान के राज्यपाल रहे कल्याण सिंह राजनीति की मुख्यधारा में वापस लौटेंगे। इसके लिए वे फिर 5 सितंबर को भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता लेंगे।

लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और स्वतंत्र देव सिंह, उन्हें पार्टी कार्यालय लाएंगे और फिर से उन्हें भाजपा की सदस्यता दिलाएंगे। आपको बताते जाए कि कल्याण सिंह एक दौर में प्रदेश में भाजपा के कद्दावर चेहरा हुआ करते थे। वे उत्तर प्रदेश के दो बार मुख्यमंत्री भी रहे हैं।

आपको बताते जाए कि राजस्थान के पांच दशक के इतिहास में कल्याण सिंह ऐसे राज्यपाल हैं, जिन्होंने पांच साल का कार्यकाल पूरा किया है। कल्याण सिंह ने 4 सितंबर, 2014 को राजस्थान के राज्यपाल पद की शपथ ली थी और 3 सितंबर को उनका 5 साल का कार्यकाल पूरा होगा।

खास खबर पर छपी खबर के अनुसार, कल्याण सिंह राज्यपाल के रूप में अपना कार्यकाल पूरा करने के बाद एक बार फिर भाजपा में वापसी करने जा रहे हैं। राज्यस्थान से उत्तर प्रदेश की सक्रीय सियासत में वापसी करेंगे।

जानकारों का कहना है कि राज्यपाल के पद से हटने के बाद कल्याण सिंह की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। क्योंकि उन्हें बाबरी केस में मुकदमे का सामना करना पड़ सकता है। राज्यपाल के रूप में संवैधानिक पद पर होने की वजह से उनके खिलाफ मुकदमा नहीं चल सकता था लेकिन उनका कार्यकाल अब खत्म होने के बाद यह छूट भी खत्म हो जाएगी।

Top Stories