Sunday , May 27 2018

कानपुर : भाजपा की मेयर अपनी पार्टी के ही खिलाफ धरने पर बैठ गईं

एक सप्ताह पहले कानपुर के कमिश्नर आवास के पास बनीं सड़क सोमवार को एकाएक धंस गई जिसके कारण बच्चों से भरी स्कूल बस चपेट में आ गई। स्थानीय लोगों ने घटना की जानकारी मेयर प्रमिला पांडेय को दी।

जानकारी मिलते ही वह मौके पर आईं और अधिकारियों को तलब कर लिया, लेकिन कोई भी अधिकारी उनके बुलावे पर नहीं पहुंचा जिसके कारण वे अपनी ही सरकार व अफसरों के खिलाफ धरने पर बैठ गई।

https://youtu.be/HjfHtP87yWE

प्रमिला पांडे ने अपनी ही सरकार के अधिकारियों पर लापरवाही का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि नगर निगम किसी के बाप की बपौती नहीं है। कमिश्नर आवास से लेकर कंपनी बाग तक पीडब्ल्यूडी विभाग ने एक सप्ताह पहले सड़क का निर्माण कराया था, लेकिन सड़क सोमवार को धंस गई। सड़क धंसने से अफरा-तफरी मच गई।

इस दौरान कई स्कूली बसें बच्चों को लेकर जा रही थीं जो इसके चपेट में आ गई। मेयर ने कहा कि सपा सरकार के दौरान पीडब्ल्यूडी में तैनात कई अफसर आज भी यहां मौजूद हैं और सरकार के आंख में धूल झोंक कर जनता की कमाई से अपना घर बनवा रहे हैं।

मेयर ने बताया कि पूरे शहर में सीवर लिकेज, सड़क, जलभराव, साफ-सफाई और शौचालयों को लेकर जनता हमारे पास आती है। जब हम विभाग के अफसरों को फोन लगाते हैं तो वह आश्वासन देकर बात को घुमा देते हैं।

TOPPOPULARRECENT