Friday , February 23 2018

VIDEO: कासगंज में हिंसा से पहले मुसलमान कर रहे थे तिरंगा फहराने की तैयारी

कासगंज हिंसा से जुड़ा एक नया विडियो सामने आया है, जिसमें गणतंत्र दिवस के दिन दो पक्षों के बीच हुए विवाद से ठीक पहले का फुटेज है। यह विडियो हुल्का मोहल्ले के वीर अब्दुल हमीद चौक का है, जहां स्थानीय निवासी तिरंगा फहराते दिख रहे हैं। इसमें तिरंगा यात्रा के लिए बाइक से आए युवकों की स्थानीय लोगों से झड़प होती दिख रही है।

26 जनवरी के इस विडियो में सुबह 9 बजकर 51 मिनट पर स्थानीय निवासी तिरंगा फहराने के लिए तैयार होते दिख रहे हैं। आसपास कई सारे बच्चे खेलते और दौड़ते नजर आ रहे हैं।

तभी तिरंगा यात्रा के लिए 9 बजकर 52 मिनट पर करीब 60-70 मोटरसाइकिलों पर सवार लगभग 200 युवाओं का जत्था वहां आता है। इसके बाद दोनों पक्षों में झड़प शुरू हो जाती है। यह फुटेज अब पुलिस के पास है और इसकी जांच की जा रही है।

यह विडियो कॉलोनी में ही रहने वाले एक शख्स ने पहचान नहीं जाहिर होने की शर्त पर हमारे सहयोगी टीओआई के साथ साझा की। उन्होंने कहा, ‘ऐसा पहली बार हुआ कि तिरंगा यात्रा जुलूस में शामिल युवकों का दल इस चौराहे पर आया।

मैंने अपनी पूरी जिंदगी में हुल्का मोहल्ले की पतली गलियों में इतने सारे युवकों को पहली बार देखा। हर साल इस तरह की रैलियां बिलराम गेट, सोरोगेट, सहवरगेट, नदरीगेट की मुख्य सड़कों से होती हुई गुजरती थीं।’

उन्होंने कहा, ‘वे बड़ी संख्या में आए और रास्ता साफ करने की मांग करने लगे। सड़क के बीच में तिरंगा फहराया जा रहा था, लेकिन वे रास्ता साफ कर वहीं से जाने पर अड़े हुए थे। हमने उन्हें साथ में समारोह मनाने की अपील की लेकिन वे हमारे धर्म को लेकर उत्तेजक नारे लगाने लगे। इसके बाद उन्होंने हम पर हमला कर दिया।’

विडियो में स्थानीय निवासी, बाइकसवार युवकों से वापस लौटने की अपील करते दिख रहे हैं। इसके बाद 9 बजकर 54 मिनट पर दोनों पक्षों में टकराव शुरू हो जाता है।

TOPPOPULARRECENT