कासगंज: हिंदू ने हिंदू को मारा लेकिन मुसलमान पर आरोप लगा जेल भेजा जा रहा – राम गोपाल यादव

कासगंज: हिंदू ने हिंदू को मारा लेकिन मुसलमान पर आरोप लगा जेल भेजा जा रहा – राम गोपाल यादव
Click for full image

उत्तर प्रदेश स्थित कासगंज में भड़की हिंसा तो शांत हो गई है लेकिन नेताओं की टिप्पणियां अभी भी आ रही हैं। ताजा प्रतिक्रिया समाजवादी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद राम गोपाल यादव ने दी है। उन्होंने कहा है कि मुस्लिम लोगों को घरों में घुस कर मार पीट की। झूठे इल्जाम लगा कर लोगों को गिरफ्तार किया जा रहा है। उनकी संपत्ति को नष्ट किया जा रहा है, आग लगाई जा रही है। पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है।  उन्‍होंने कहा, ‘मैंने संसद में इसलिए बोला कि केंद्र सरकार इस पर बयान दे, स्थिति स्‍पष्‍ट करे। साथ ही झूठे आरोपों में गिरफ्तार लोगों को छोड़ा जाए। जो लोग वास्‍तव में दोषी हैं, जिन्‍होंने गोली चलाई है उन्‍हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए। ऐसे में सवाल उठता है कि मार कौन रहा है? हिंदू ने ही हिंदू को मारा। एक मुसलमान के ऊपर आरोप लगा दिया गया गया क्‍योंकि उसके तीन भाइयों के खिलाफ पहले से ही एफआईआर दर्ज है।’ कासगंज हिंसा में चंदन गुप्‍ता की गोली लगने से मौत हो गई थी। इसके बाद पुलिस कारवाई करते हुए कई लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। सपा नेता ने कहा, ‘मुस्लिम लोगों के घरों में घुसकर मारपीट की। झूठे इल्‍जाम लगा कर लोगों को गिरफ्तार किया जा रहा है, उनकी संपत्ति नष्‍ट की जा रही है। आग लगाई जा रही है। इसके बावजूद पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है।’ रामगोपाल यादव के इस बयान पर लोगों ने तीखी प्रतिक्रिया व्‍य‍क्‍त की है।

 

अंकुश द्विवेदी ने ट्वीट किया, ‘पुलिस कार्रवाई तो कर रही है…बस आपके हिसाब से नहीं कर रही है।’ अभिषेक कटियार ने लिखा, ‘आपने जो काम पांच वर्षों में नहीं किया था, योगी आदित्‍यनाथ अब कर रहे हैं।’ अनुराग कौशल ने लिखा, ‘…और रामगोपाल यादव ने डाली आहुति। स्‍वाहा।’ अरविंद जकेटिया ने ट्वीट किया, ‘अरे भाई अब मुसलमान भी तुम्‍हारे झांसे में नहीं आने वाले। कभी हिंदू पर हमले पर भी बोला कीजिए।’

Top Stories