Friday , June 22 2018

कश्मीर एक राजनीतिक मुद्दा, इसका कोई फौजी समाधान नहीं: महबूबा मुफ़्ती

श्रीनगर: जम्मू व कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह की ओर से कश्मीरी अलगाववादी नेताओं को दी गई बातचीत के निमंत्रण को एक सुनहरा मौक़ा करार देते हुए कहा है कि यह पेशकश बार बार नहीं आएगी।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

उन्होंने कहा कि हम अलगाववादी नेताओं को जबरदस्ती बातचीत की मेज़ पर नहीं लायेंगे, लेकिन मैं यह उम्मीद करती हूँ कि वह राज्य को मुसीबत से बाहर निकालने के लिए गृहमंत्री की पेशकश से फायदा उठाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि घाटी कश्मीर में लडाकों के खिलाफ ऑपरेशनज के निलंबन की वजह से खून खराबे का सिलसिला बंद हो गया है, और लोगों को इत्मिनान से सांस लेने का मौक़ा प्राप्त हुआ है।

उन्होंने कहा कि ऑपरेशनज के निलंबन में विस्तार का दारोमदार घाटी की भूमि स्थिति पर है, इसलिए मैं उम्मीद करती हूँ कि प्रधानमंत्री और गृहमंत्री मुनासिब फैसला करेंगे।

TOPPOPULARRECENT