कश्मीर: AMU से पीएचडी कर रहा छात्र हिज्ब-उल-मुजाहिदीन में हुआ शामिल

कश्मीर: AMU से पीएचडी कर रहा छात्र हिज्ब-उल-मुजाहिदीन में हुआ शामिल

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में एक पीएचडी कर रहे छात्र की हिज्ब-उल-मुजाहिदीन में शामिल होने की खबर सामने आई है। यह पीएचडी स्कॉलर अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में रिसर्च कर रहा था। अब जम्मू कश्मीर में सोशल मीडिया पर उसके एके-47 लिए एक तस्वीर सामने आई है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

स्थानीय मीडिया ने आधिकारिक स्रोतों के हवाले से लिखा है कि पीएचडी के छात्र का नाम मन्नान वाणी है और वह कुपवाड़ा जिले के लोलाब के ताकपुरा गांव का रहने वाला है। वह भूविज्ञान में पीएचडी कर रहा था, 26 वर्षीय वाणी तीन दिन पहले अपने घर लौटने वाला था। लेकिन उन्होंने घर पर कोई खबर नहीं दी।

रिपोर्ट के अनुसार वह पांच साल से एएमयू में रह रहा था और वहीं से उन्होंने एमफिल की डिग्री ली थी। दो दिन पहले तस्वीर फेसबुक पर सामने आई थी उनके हाथ में एके-47 राइफल था और कहा गया कि वह 5 जनवरी को हिजब-उल-मुजाहिदीन में शामिल हो गया।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि लापता रिपोर्ट उनके परिवार द्वारा दर्ज की गई है। उसके बाद से पुलिस ने ऑपरेशन शुरू कर दिया है। पुलिस ने कहा कि जांच की जा रही है कि कैसे उसने पीएचडी का रिसर्च छोड़ कर आतंकवाद का रास्ता अपनाया।

Top Stories