दिल्ली : फ्लैट हाउसेंट्स एसोसिएशन अध्यक्ष पांडेय ने पीएमओ को लिखा पत्र

दिल्ली : फ्लैट हाउसेंट्स एसोसिएशन अध्यक्ष पांडेय ने पीएमओ को लिखा पत्र
Click for full image

नई दिल्ली। 2 अप्रैल को फ्लैट हाउसेंट्स एसोसिएशन (एफओए) के अध्यक्ष ने पोएमओ को भेजे एक पत्र में आरोप लगाया गया था कि दक्षिणी दिल्ली की सनलाइट कॉलोनी थाना क्षेत्र के सिद्धार्थ एक्सटेंशन में पिछले 10 वर्षों रह रहे कश्मीरी परिवार ‘अवैध व्यवसाय’ में शामिल हैं।

द इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार एफओए अध्यक्ष एसएन पांडे ने इस पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं जिसमें गंभीर आशंका जताई कि ये लोग कुछ गैरकानूनी गतिविधियों में शामिल हैं। उन्होंने किराए पर पांच फ्लैट लिए हैं और स्थानीय निवासियों ने रात में कॉलोनी में संदिग्ध लोगों को देखा है। यहां रह रहे कश्मीरी लोग स्ट्रीट डॉग्ज को रोज खाना खिलाते हैं।

वे निवासियों को रात में कॉलोनी में जाने की इजाजत नहीं देते हैं। एक स्थानीय निवासी ने बताया कि यहां करीब 35 कश्मीरी परिवार काफी साल से रह रहे हैं। उनसे कभी भी झगड़ा नहीं हुआ। इस कारण रोड से निकलना मुश्किल हो गया है। कुत्ते बच्चों व बुजुर्गो के लिए मुसीबत बने हुए हैं।

इस बाबत पुलिस को पहले भी शिकायत दी गई थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। इस कारण पहले भी कई बार विवाद हुआ है। वहीं, बृहस्पतिवार रात भी ये लोग कुत्तों को लेकर घूम रहे थे। एक महिला ने इसका विरोध किया तो झगड़ा बढ़ गया।

इस बीच, दिल्ली की घटना के सिलसिले में शनिवार को पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पीड़ितों के मुताबिक, कथित हमलावरों में से कुछ हॉकी स्टिक्स से सशस्त्र थे। उन्होंने यह भी कहा कि भीड़ ने कश्मीर विरोधी नारे लगाए।

दिल्ली स्थित एनजीओ, पीपल्स फॉर एनिमल (पीएफए) द्वारा फेसबुक पर एक वीडियो साझा करने के बाद मामला सामने आया। यह वीडियो सड़क पर एक घायल महिला को दिखाता है, जिसकी अज़रा मुजफ्फर के रूप में पहचान हुई है, जो महिलाओं के हमलों और पुरुषों के हमलों का विरोध करने की कोशिश कर रही है।

Top Stories