Tuesday , April 24 2018

कठुआ रेप-मर्डर का मास्टरमाइंड माने जा रहे पूर्व राजस्व अफसर का सरेंडर

जम्मू-कश्मीर के कठुआ रेप और मर्डर केस में एक पूर्व राजस्व अधिकारी ने मंगलवार को सरेंडर कर दिया. 60 साल के इस पूर्व राजस्व अधिकारी का नाम संजीराम है और पुलिस उसे इस पूरे मामले का मास्टरमाइंड बता रही है. इससे पहले सोमवार को उसके बेटे को मेरठ से गिरफ्तार किया गया था.

पुलिस की जांच में पता चला है कि क्षेत्र में रह रहे गुर्जर और बकरवाल समुदाय के लोगों में डर पैदा करने और उन्हें वहां से हटाने की मंशा से इस सुनियोजित हत्या को अंजाम दिया गया. हत्या से पहले बच्ची को नशीला पदार्थ दिया गया और उसके साथ बलात्कार किया गया.

कठुआ के रसाना जंगलों से 17 जनवरी को 8 साल की इस बच्ची का शव बरामद हुआ था. वो करीब एक हफ्ते से लापता थी. इस घटना का पूरे राज्य में जमकर विरोध हुआ था.

इस मामले के लेकर पीडीपी और बीजेपी के बीच तनाव पैदा हो गया था. इस केस आरोपियों को छुड़ाने के लिए निकाली हिंदू एकता मंच की एक रैली में बीजेपी के दो मंत्री भी शामिल हुए थे. इनकी मांग थी कि यह केस सीबीआई को सौंपा जाए.

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने सीबीआई की जांच को खारिज करते हुए कहा था कि 95 फीसदी जांच पूरा हो गया है. उन्होंने कहा था कि कुछ लोग कठुआ जिले में आठ साल की लड़की के साथ बलात्कार और हत्या मामले को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश कर रहे हैं.

सरकार ने 23 जनवरी को यह मामला राज्य पुलिस की अपराध शाखा को सौंपा था, जिसने 8 साल की बच्ची के अपहरण और हत्या में कथित संलिप्तता को लेकर एक विशेष पुलिस अधिकारी (एसपीओ) को गिरफ्तार किया था.

TOPPOPULARRECENT