मोदी सरकार को झटका, ‘एस दुर्गा’ पर रोक लगाने से केरल हाई कोर्ट का इनकार

मोदी सरकार को झटका, ‘एस दुर्गा’ पर रोक लगाने से केरल हाई कोर्ट का इनकार
Click for full image

केरल उच्च न्यायालय ने गोवा में चल रहे आईएफएफआई के पैनोरमा खंड में मलयालम फिल्म एस दुर्गा को दिखाने के एकल पीठ के आदेश पर रोक लगाने से आज इनकार कर दिया. कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश एंटनी डॉमिनिक और न्यायमूर्ति ए मोहम्मद मुश्ताक की खंडपीठ ने केंद्र की याचिका को स्वीकार करते हुए एकल न्यायाधीश के आदेश पर रोक लगाने से इनकार कर दिया.

एकल पीठ के आदेश का विरोध करते हुए केंद्र के वकील ने कहा कि इस फिल्म की स्क्रीनिंग कराने से महोत्सव की समय-सारणी के लिए समस्या पैदा होगी लेकिन खंडपीठ ने एकलपीठ के निर्णय को बरकरार रखा और याचिका को केस फाइल के रूप में स्वीकार कर लिया। जूरी की मंजूरी के बावजूद सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने सनल कुमार शशिधरन की मलयालम फिल्म ‘एस दुर्गा’ और रवि जाधव की मराठी फिल्म ‘न्यूड’ की स्क्रीनिंग को इफ्फी के पैनोरमा सेक्शन से हटा दिया था।

केरल उच्च न्यायालय के फिल्म ‘एस दुर्गा’ पर सुनाए गए फैसले के बाद फिल्म के अभिनेता कन्नन नायर ने गोवा में कहा, “हमने जूरी के सभी सदस्यों से अनुरोध किया कि वह कल फिल्म को दोबारा देखने के लिए आएं। आपको यह फिल्म पसंद आएगी।

Top Stories