Tuesday , December 12 2017

NIA की जांच में दावा, हादिया के पति शफीन सोशल मीडिया के जरिए ISIS के संपर्क में थे

नई दिल्ली : नैशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी की एक जांच में दावा किया गया है कि हादिया के पति शफीन शादी से एक महीने पहले फेसबुक ग्रुप और एक पॉप्युलर मेसेजिंग ऐप के जरिए आईएसआईएस के संपर्क में थे। इस ग्रुप में पॉप्युलर फ्रंट ऑफ इंडिया की पॉलिटिकल विंग एसडीपीआई के कुछ सदस्य जुड़े हुए थे। उमर अल-हिंदी मामले में गिरफ्तार किए गए मनसीद और पी साफवान भी इस ग्रुप में शामिल थे।

मनसीद और साफवान को पिछले साल अक्टूबर में उमर अल-हिंदी मामले में एनआईए ने गिरफ्तार किया था। इस मामले में इन पर आरोप है कि आईएस से प्रभावित यह ग्रुप दक्षिण भारत में हाई कोर्ट के जज, पुलिस अधिकारियों और राजनीतिक नेताओं पर हमले की साजिश रच रहा था।

एनआईए की जांच में पता चला है कि मनसीद और साफवान, शफीन के संपर्क में थे। शफीन कॉलेज के दिनों से ही एसडीपीआई की स्टूडेंट विंग के डिस्ट्रिक्ट कमिटी के मेंबर और ऐक्टिव वर्कर थे। यह सभी लोग सोशल मीडिया ऐप और एक क्लोज़्ड फेसबुक ग्रुप ‘थानल’ के जरिए एक-दूसरे के संपर्क में थे। मनसीद और शफीन केवल फेसबुक ग्रुप ‘एसडीपीआई केरलम’ के मेंबर ही नहीं बल्कि उसके ऐडमिनिस्ट्रेटिव पैनल का भी हिस्सा थे।

शफीन कोझिकोड के एक करियर गाइडंस ग्रुप ‘ऐक्सेस’ से मेंटॉर के रूप में जुड़े हुए थे जिसमें सैनबा काउंसलर के तौर पर काम कर रही थीं। करियर गाइडंस ग्रुप ऐक्सेस से मुनीर भी जुड़ा हुआ था। एनआईए को हादिया और शफीन के उन दावों में विरोधाभास नजर आया जिसमें उन्होंने केरल हाई कोर्ट को बताया था कि वे एक मैट्रिमोनियल बेवसाइट waytonikah.com के जरिए मिले थे।

एनआईए की रिपोर्ट के मुताबिक, शफीन की शादी का प्रपोजल मुनीर के जरिए अगस्त 2016 में आया था। एक एनआईए अधिकारी के मुताबिक, ‘इस दौरान शफीन, मनसीद और साफवान के संपर्क में थे।’

TOPPOPULARRECENT