पत्रकार जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या के सभी जिम्मेदारियों को सऊदी अरब हमारे हवाले करे- एर्दोगान

पत्रकार जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या के सभी जिम्मेदारियों को सऊदी अरब हमारे हवाले करे- एर्दोगान

तुर्की के राष्ट्रपति ने कहा है कि सऊदी अधिकारी आले सऊद शासन के विरोधी पत्रकार जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या के मामले में लगातार झूठ बोल रहे हैं।

प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार तुर्की के राष्ट्रपति रजब तय्यब अर्दोग़ान ने वरिष्ठ सऊदी पत्रकार जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या के बारे में सऊदी युवराज मोहम्मद बिन सलमान द्वारा संदेह पर अधारित दिए गए बयान को ख़ारिज करते हुए कहा कि अगर ज़रूरत हुई तो जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या से संबंधित सभी सबूत और साक्ष्य बिन सलमान के सामने पेश कर देंगे।

तुर्क राष्ट्रपति ने कहा कि इस भयानक अपराध के बारे में ख़ाशुक़जी की हत्या करने वाली टीम के संबंध से जो ग़लत जानकारियां दी जा रही हैं उसका उद्देश्य उस व्यक्ति को बचाना है जिसने ख़ाशुक़जी की हत्या का आदेश दिया था।

तुर्की के राष्ट्रपति रजब तय्यब अर्दोग़ान ने कहा कि अगर आवश्यकता पड़ी तो हम संयुक्त राष्ट्र संघ भी जाएंगे और इस भयानक अपराध का सच अंतर्राष्ट्रीय न्यायलय द्वारा दुनिया के सामने लाएंगे।

उल्लेखनीय है कि आले सऊद ने पहले तो वरिष्ठ सऊदी पत्रकार जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या में उसकी भूमिका के होने का साफ़ इंकार किया था लेकिन कुछ दिनों बाद मामले को अलग रंग देने का प्रयास किया।

फिर रियाज़ सरकार अंतर्राष्ट्रीय दबाव के आगे झुकने पर मजबूर हो गई और 19 अक्टूबर को हत्या के 18 दिनों बाद हर तरह के बहाने बनाने के बाद इस बात को स्वीकार किया कि ख़ाशुक़जी को तुर्की के इस्तांबूल शहर में स्थित सऊदी दूतावास में ही मारा गया था।

साभार- ‘parstoday.com’

Top Stories