पढ़िए, मोहम्मद शमी और हसीन जहां की कैसे हुई मुलाकात, दो साल अफेयर के बाद दोनों ने की शादी

पढ़िए, मोहम्मद शमी और हसीन जहां की कैसे हुई मुलाकात, दो साल अफेयर के बाद दोनों ने की शादी
Click for full image

भारत के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी आखिरकार पत्नी हसीन जहां की ‘यॉर्कर गेंद’ पर क्लीन बोल्ड हो ही गए। पत्नी के गंभीर आरोपों पर उन्होंने पहली बार सामने आकर सफाई दी है।

उन्होंने अपने ऊपर लगाए गए सारे आरोपों को बेबुनियाद और साजिश बताया है। साथ ही कहा कि अगर हसीन को लगता है कि मैंने कोई गलती की है तो वह सॉरी बोलने को राजी है। लेकिन जैसे हसीन आरोप लगा रही है वह अच्छी बात नहीं है।

यूपी के गांव अमरोहा में मोहम्मद शमी ने कहा कि मेरी शादी को 4 साल हो गए। इस दौरान हसीन को अगर मेरी कोई बात पसंद नहीं थी तो उन्होंने पहले क्यों नहीं बोला। यह एक गहरी साजिश है। मैं अपने परिवार और पत्नी के साथ ही रहना चाहता हूं।

पता नहीं उन्होंने ऐसा क्यों किया। हम लोगों ने होली भी इस बार साथ ही मनाई थी। साउथ अफ्रीका टूर पर भी शॉपिंग कर ज्वैलरी खरीदी थी।
मैं इस मुद्दे पर पत्नी के साथ बैठकर बात करना चाहता हूं।

अगर मुझे लगता है कि पत्नी और उनकी बच्ची उनके सॉरी बोलने से वापस आ जाएंगे तो उन्हें कोई ऐतराज नहीं होगा। शमी ने कहा कि जिस मोबाइल फोन का हसीन बार-बार जिक्र कर रही है वह उनका नहीं है। यकीनन यह उन लोगों का काम है जो हमारी कामयाबी से जल रहे हैं।

शमी की पत्नी हसीन जहां ने बीते दिन अपने फेसबुक अकाउंट पर फोटोज शेयर करते हुए शमी पर आरोप लगाए थे कि उनके कई लड़कियों के साथ अवैध संबंध हैं।

इन फोटोज में वॉट्सएप चैट के वह स्क्रीनशॉट भी थे। जिसमें गर्मा-गर्म चैट की गई थी। जहां तक कि हसीन ने पाकिस्तान की एक कथित वेश्वा की तस्वीर भी अपलोड कर ली। साथ ही लिखा कि जिस महिला के साथ शमी खड़े हैं वह उनकी गर्लफ्रैंड हैं।

मोहम्मद शमी और हसीन जहां की पहली मुलाकात 2012 में आईपीएल के दौरान हुई थी। उस वक्त हसीन मॉडलिंग में करियर बना रही थी। दोनों के बीच लगभग दो साल अफेयर चला। बाद में दोनों ने घरवालों की रजामंदी से लव मैरिज कर ली।

हसीन जहां ने बताया कि उन्होंने ससुर तौसिफ अहमद के कहने पर मॉडलिंग छोड़ी थी। हसीन ने कहा कि ससुर नहीं चाहते थे कि वह मॉडल बने।

क्योंकि उन्हें ऐसा लगता था कि उनकी बहू को मॉडलिंग करने की बजाय हाउसवाइफ बनना चाहिए। वह सदा कहते थे कि बहू मॉडलिंग की बजाय बेटे शमी के क्रिकेट करियर को सपोर्ट करो।

Top Stories