कोविड-19 ने अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाया!

कोविड-19 ने अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाया!

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने शुक्रवार को कहा कि वैश्विक अर्थव्यवस्था में कोरोनावायरस महामारी के कारण होने वाले नुकसान की तीव्रता बहुत अधिक है।

खास खबर पर छपी खबर के अनुसार, हर्षवर्धन ने डब्ल्यूएचओ के कार्यकारी बोर्ड के ब्यूरो की वर्चुअल (ऑनलाइन) बैठक में कहा, कोविड-19 से लगभग 1.7 करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं और इस महामारी के कारण दुनिया भर में 662,000 से अधिक जानें चली गई हैं। विश्व अर्थव्यवस्था के लिए नुकसान की तीव्रता भी बहुत अधिक है।

उन्होंने कोविड-19 के कारण जानमाल के नुकसान पर गहरी संवेदना और चिंता व्यक्त की और महामारी से लड़ाई में काम कर रहे अग्रिम पंक्ति के लोगों के प्रयासों के लिए आभार भी व्यक्त किया।

हर्षवर्धन इस कार्यकारी बोर्ड के अध्यक्ष भी हैं। उन्होंने बैठक के दौरान इस बात पर जोर दिया कि दुनिया ने स्वास्थ्य के महत्व को महसूस किया है और संचारी और गैर-संचारी रोगों द्वारा उत्पन्न जोखिमों से निपटने के लिए देशों के बीच अधिक से अधिक सहयोग की आवश्यकता है।

स्वास्थ्य मंत्री ने किसी भी बीमारी के फैलने के जोखिम और चुनौती पर प्रकाश डालते हुए कहा कि यह समस्या और भी बड़ी हो जाती है, क्योंकि यह देशों की सीमाओं के बीच अंतर नहीं करती है।

उन्होंने डब्ल्यूएचओ के सदस्यों से बहु-क्षेत्रीय सहयोग को बढ़ाने, वैश्विक प्रतिक्रिया, समर्थन और सहयोग को संचार से फैलने वाले और गैर-संचारी रोगों से और अधिक प्रभावी ढंग से लड़ने के लिए प्रेरित करने का आग्रह किया।

उन्होंने कहा कि महामारी के बाद के चरण में नए खतरों और चुनौतियों का सामना करने के लिए नए तरीके तलाशने की जरूरत है। ब्यरो में कार्यकारी बोर्ड के उपाध्यक्ष और डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक भी शामिल रहे।

बैठक की शुरुआत में हर्षवर्धन ने कार्यकारी बोर्ड की पहली बैठक में भाग लेने वालों का स्वागत किया और महामारी के दौरान उन्हें सलामती के लिए शुभकामनाएं दीं।

Top Stories