एनडीए भाईचारा भोज : कुशवाहा ने अमित शाह के नहीं आने पर सवाल उठाया

एनडीए भाईचारा भोज : कुशवाहा ने अमित शाह के नहीं आने पर सवाल उठाया
Click for full image

पटना। एनडीए के घटक दलों के बीच उभर रहे मतभेदों को खत्म करने और एकजुटता के लिए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के निर्देश पर बिहार में राजग के घटक दलों के बीच भाईचारा भोज का आयोजन किया गया। इस आयोजन में शामिल नहीं होने पर रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने सफाई देते हुए कहा कि सरकारी काम की व्यस्तता के कारण वह पटना नहीं आ सके।

पत्रकारों द्वारा सवाल किये जाने पर उन्होंने कहा कि भोज में अमित शाह भी शामिल नहीं हुए, लेकिन आप लोग उनसे सवाल क्यों नहीं करते। गौरतलब हो कि राजधानी के ज्ञान भवन में गुरुवार की शाम को एनडीए के घटक दलों के बीच उभर रहे मतभेदों को खत्म करने और एकजुटता के लिए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के निर्देश पर बिहार में राजग के घटक दलों के बीच भाईचारा भोज के आयोजन की मेजबानी भाजपा ने की।

इसमें जदयू, लोजपा एवं रालोसपा के तमाम वरिष्ठ-कनिष्ठ नेताओं ने शिरकत की। हालांकि, रालोसपा अध्‍यक्ष उपेंद्र कुशवाहा यहां नहीं आये थे। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय और संगठन महामंत्री नागेंद्र नाथ ने सहयोगी दलों के नेताओं को स्वयं आमंत्रित किया था।

राजग गठबंधन में जदयू की वापसी के बाद यह पहला बड़ा आयोजन था। लोजपा और रालोसपा के साथ भी ऐसा आयोजन भाजपा ने पहली बार ऐसा आयोजन किया था। हालांकि, भोज में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी, केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान, डॉ अरूण कुमार, रालोसपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष नागमणि, प्रदेश अध्यक्ष भूदेव चौधरी, सांसद रामकुमार शर्मा के अलावा कई नेताओं ने शिरकत की।

आमतौर पर मुख्यमंत्री भोज में हिस्सा तो लेते हैं, पर वह भोजन नहीं करते लेकिन एनडीए द्वारा आयोजित भोज में नीतीश कुमार ने नेताओं के साथ भोजन का भी लुफ्त उठाया।

Top Stories