Saturday , September 22 2018

ला-मो टू नी-मो, कैसे ‘मोदी वायरस’ भारत को चट कर रहा है?

नई दिल्ली। नीरव मोदी से जुड़ी कई संपत्तियों को प्रवर्तन निदेशालय द्वारा जब्त कर लिया गया है। ईडी ने नीरव मोदी के दिल्ली, मुंबई और सूरत के घर और कार्यालयों पर छापा मारा और 5100 करोड़ के हीरे और आभूषण जब्त किए। पंजाब नेशनल बैंक द्वारा शिकायत दर्ज करने के बाद छापे की कार्रवाई की गई।

एजेंसी ने मोदी उसकी पत्नी अमी भाई निशाल और बिजनेस पार्टनर मेहुल चौकसे के खिलाफ 280 करोड़ रुपये का मनी लॉन्ड्रिंग केस दायर किया है। विडंबना यह है कि, दावोस में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में ग्रुप फोटो में नीरव मोदी को प्रधानमंत्री मोदी के साथ देखा गया था।

पीएनबी मामले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी से जुड़े घोटाले की अनदेखी करने का आरोप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लगाते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को यहां कहा कि उन्हें (मोदी को) यह बताना चाहिए कि इतना बड़ा घोटला क्यों और कैसे हुआ और वह इस बारे में क्या कर रहे हैं।

एनडीटीवी में दी गई खबरों के मुताबिक कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी को देश से बचने में मदद करने का आरोप लगाया, हालांकि 2016 से जब उन्हें घोटाले के बारे में पता चला था, जब नीरव मोदी के बिजनेस पार्टनर मेहुल चौकसेने उन्हें लिखा था और चेतावनी दी कि वह देश छोड़ दो। 29 जनवरी को सीबीआई ने घोटाले में उनकी भागीदारी के लिए नीरव मोदी के खिलाफ दायर किया था, हालांकि वह 1 जनवरी को देश से भाग गए थे।

TOPPOPULARRECENT