आप विधायकों की सदस्यता रद्द कराने वाले वकील प्रशांत पटेल के पुराने विवादित ट्वीट शेयर कर यूजर्स साध रहे हैं निशाना

आप विधायकों की सदस्यता रद्द कराने वाले वकील प्रशांत पटेल के पुराने विवादित ट्वीट शेयर कर यूजर्स साध रहे हैं निशाना

लाभ के पद मामले में अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी (आप) के 20 विधायकों की सदस्यता रद्द कराने वाले युवा वकील प्रशांत पटेल इन दिनों सोशल मीडिया पर चर्चा में हैं। चुनाव आयोग ने प्रशांत पटेल की शिकायत के बाद ही 20 विधायकों को अयोग्य करार देने की सिफारिश राष्ट्रपति को भेजा था।

इस बीच कथित तौर पर प्रशांत पटेल के कुछ पुराने विवादित ट्वीट के स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे हैं जिनमें कथित तौर पर प्रशांत पटेल इस्लाम, मुसलमान, महिलाओं, आरएसएस, भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी, अभिनेता सलमान खान, फिल्म निर्देशक महेश भट्ट, पत्रकार राजदीप सरदेसाई सहित कई तमाम बड़े हस्तियों के खिलाफ आपत्तिजनक ट्वीट कर चुके हैं।

नवेन्दु नाम के एक यूजर ने प्रशात के पुराने ट्वीट को शेयर किया है जिसमें उन्होंने लिखा है, ‘आडवाणी उस बदचलन औरत की तरह हैं जो अपने मोहल्ले की बाकी औरतों को भी बिगाड़ देती हैं।’ वहीं, एक अन्य ट्वीट में लिखा है कि गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर ने एक बार (2009 में) कहा था, आडवाणी बासी आचार की तरह हैं, अब तो दुर्गन्ध दूर से ही आने लगी है।

वहीं आरएसएस के बारे में उन्होंने लिखा है कि ‘मुसलमान मारते रहेंगे, हिंदू मरता रहेगा, तब भी आरएसएस हैप्पी ईद बोलता रहेगा।’ वहीं, एक पुराने ट्वीट का स्क्रीनशॉट वायरल हो रहा है जिसमें उन्होंने कथित तौर पर अभिनेता सलमान खान को ‘सूअर’ कहकर संबोधित किया है। वहीं, सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ वकील और भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी को कथित तौर पर प्रशांत पटेल ने बेहद आपत्तिजनक ट्वीट किए थे, जिसका स्क्रीनशॉप इस समय वायरल हो रहा है।

कोमल नाम की एक अन्य यूजर ने प्रशांत के कुछ पुराने ट्वीट को शेयर किया है। जिसमें उन्होंने लिखा है, “जो कायर थे मुसलमान हो गए। जो बहादुर थे वो कुर्बान हो गये।” वहीं एक अन्य ट्वीट में लिखा है, “मुहम्मद जैसे दरिंदों की वजह से आज इंसानियत के दुश्मन मुसलमान ना खुद चैन से जी रहे हैं ना दूसरों को चैन से जीने दे रहे हैं।” वहीं एक अन्य ट्वीट में प्रशांत ने कथित तौर पर लिखा है, “मुर्दों की जगह शमशान और जमीन के ऊपर की जगह को आसमान कहते हैं, जो अपनी अम्मी और बहन को भी ना छोड़े उस मुसलमान कहते हैं।”

वायरल हो रहे ट्वीट को लेकर प्रशांत पटेल ने ‘जनता का रिपोर्टर’ से बातचीत में कहा कि, देखिए, आम आदमी पार्टी के जो ट्रोल्स हैं वह मेरे पुराने ट्वीट को शेयर कर रहे हैं। देश में सभी को अपनी बात रखने का अधिकार है। जिस प्रकार से आप (जनता का रिपोर्टर) मेरे खिलाफ खबर लिखने के लिए स्वतंत्र हैं, उसी तरह से मुझे भी अपनी रखने को आजादी है। आपको जो भी लिखना है वह लिख सकते हैं।” हालांकि, ‘जनता का रिपोर्टर’ प्रशांत पटेल के वायरल हो रहे ट्वीट्स की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है।

(साभार : जनता का रिपोर्टर)

Top Stories