जानें इस स्पाइडरमैन शख्स के बारे में, जिन्होंने अबतक 10 हजार से अधिक बच्चों की जान बचाया है

जानें इस स्पाइडरमैन शख्स के बारे में, जिन्होंने अबतक 10 हजार से अधिक बच्चों की जान बचाया है
Click for full image

अमेरिका का रहने वाले रिकी मीना शायद दुनिया को इंसानियत का पाठ पढ़ाने के लिए ही पैदा हुए हैं। क्योंकि रिकी मीना स्पाइडर मैन की ड्रेस पहनकर बच्चों के अस्पतालों में घूमते हैं और उन्हें बीमारी से निजात दिलाने में अहम भूमिका अदा करते हैं।

रिकी मीना स्पाइ़डर मैन की ड्रेस में उन बीमार बच्चों से मुलाकात करते हैं जो अस्पताल में भर्ती हैं। वो उनसे स्पाइडर मैन की ड्रेस पहनकर मुलाकात करने जाते हैं। तो बीमार बच्चे भी उठकर खड़े हो जाते हैं। अस्पताल पहुंचकर वो बच्चों से ऐसे मिलते हैं जैसे बच्चों की हर ख्वाहिश पूरी हो गई हो। यही नहीं वो बच्चे के कहे अनुसार हर काम भी करते हैं।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

वो अस्पताल में पहुंच कर बच्चों के साथ वीडियो गेम खेलते हैं, बच्चों का हाथ पकड़कर घंटों बैठे रहते हैं। उनमें ऐसा जादू है कि बच्चे सारे दुख, दर्द और परेशानी भूलकर उनके साथ खूब खेलते हैं। ऐसा कर रिकी ने अब तक गंभीर बीमारियों से जूझ रहे 10 हजार से अधिक बच्चों की जान बचा चुके हैं।

रिकी मीना बताते हैं कि एक रात उनके सपने में उनकी दादी मां आईं थीं। जो उन्हें पुराने से प्रोजेक्टर पर एक वीडियो दिखा रही हैं। इस वीडियो में स्पाइडर मैन एक अस्पताल में है जहां ढेर सारे बीमार बच्चे हैं जोकि स्पाइडरमैन को देखकर खुश हो जाते हैं। वो बताते हैं कि मैंने सपने में अपनी दादी मां से पूछा कि यह वीडियो किस फिल्म का है तो उन्होंने बताया कि बेटा ये तुम हो और कल सुबह उठोगे तो इस काम को करोगे। तब से रिकी हर रोज स्पाइडर मैन की ड्रेस में अस्पताल में घूमते रहते हैं और बच्चों को बीमारी से मुक्ति दिलाते हैं।

बता दें कि जब रिकी को सपना आया तो उनके पास न तो काम था और न ही जरूरतें पूरी करने का कोई जरिया। वो बताते हैं कि उन दिनों मेरे पास सिर्फ मेरे दोस्त का काउच था, जिस पर मैं रहता और सोता था।

सपने को देखने के बाद रिकी ने इस पर काम करना शुरू किया। पहली बार ड्रेस बनवाने के लिए भी पैसे नहीं थे इसलिए कार बेच दी। पहले तो हॉस्पिटल का रिस्पॉन्स अच्छा नहीं था लेकिन जैसे ही बच्चों की तबियत में सुधार आने लगा तो अस्पताल उन्हें कॉल करके बुलाने लगे।

Top Stories