Monday , July 23 2018

झूठ निकला ट्रम्प का स्टेट ऑफ द यूनियन स्पीच को लेकर किया गया दावा!

राष्ट्रपति ट्रम्प ने इस साल की शुरुआत में लंदन की यात्रा रद्द कर दी है।

वॉशिंगटन। स्टेट ऑफ द यूनियन स्पीच को लेकर अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का दावा झूठा साबित हुआ है और इसकी पोल आंकड़ों से खुल गई है। ट्रंप ने दावा किया था कि ‘इतिहास में सबसे अधिक’ लोगों ने अमरीकी कांग्रेस में दिए गए उनके स्टेट ऑफ द यूनियन स्पीच को टेलीविजन पर सुना।

लेकिन बीते सालों के रेटिंग्स डेटा ने ट्रंप के इस दावे को पूरी तरह से गलत ठहरा दिया है।

अमरीका में टेलीविजन रेटिंग संबंधी आंकड़ों पर नजर रखने वाली कंपनी नीलसन का कहना है कि ट्रंप ने ‘अब तक सबसे अधिक 4.56 करोड़’ लोगों के टीवी पर उनका स्टेट ऑफ द यूनियन स्पीच सुनने का दावा किया था जो गलत है।

नीलसन का कहना है पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा, बिल क्लिंटन और जॉर्ज डब्ल्यू बुश की स्पीच को ट्रंप से अधिक लोगों टीवी पर सुना है। हालांकि ट्रंप का स्पीच सोशल मीडिया ट्विटर पर भी सुना गया था। ट्विटर के अनुसार ट्रंप के स्पीच के बीरे में 45 लाख ट्वीट किए गए थे जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है।

ट्रंप ने अपने स्पीच के बारे में सोशल मीडिया पर लिखा था, “स्टेट ऑफ द यूनियन स्पीच के बारे में अपनी राय रखने और विश्लेषण करने के लिए धन्यवाद।

इस स्पीच को 4.56 करोड़ लोगों ने देखा जो इतिहास में सबसे अधिक है। पहली बार फॉक्स न्यूज को सभी चैनलों के मुकाबले सबसे अधिक देखा गया, 1.17 करोड़ लोगों ने इस चैनल पर मेरा स्पीच देखा। दिल की बात दिल तक पहुंची।”

लेकिन नीलसन से मिले आंकड़ों की मानें तो 2010 में बराक ओबामा के पहले आधिकारिक स्टेट ऑफ द यूनियन स्पीच को 4.8 करोड़ लोगों ने देखा, जबकि साल 1993 में बिल क्लिंटन के स्टेट ऑफ द यूनियन स्पीच को 6.69 करोड़ लोगों ने देखा था।

ये अपने आप में एक रिकॉर्ड था। साल 2003 में इराक युद्ध के कुछ सप्ताह पहले जॉर्ज डब्ल्यू बुश ने जो स्पीच दी थी उसे 6.21 करोड़ लोगों ने देखा था। नीलसन ने इस बात की पुष्टि की है कि ट्रंप की स्पीच को देखने वालों में से एक चौथाई यानी 1.15 करोड़ लोगों ने फॉक्स न्यूज पर इसे देखा था।

नीलसन का ये सर्वेक्षण 12 टेलीविजन नैटवर्क से मिले आंकड़ों पर आधारित है और उन आंकड़ों को नहीं दर्शाता जिन्होंने इंटरनैट पर ट्रंप की स्पीच को देखा था।

TOPPOPULARRECENT