Monday , December 18 2017

LOC के मुद्दे पर सुषमा, जेटली से मिले मेनन

LOC के हालात पर रिपोर्ट देने के लिए क़ौमी सलामती के मुशीर शिव शंकर मेनन लोक सभा में अप्पोज़ीशन की लीडर सुषमा स्वराज के घर पहुंचे. उन से मिलने के लिए राज्य सभा में हिज़ब-ए-इख़्तलाफ़ के रहनुमा और बी जे पी लीडर अरूण जेटली भी मौजूद थे.

LOC के हालात पर रिपोर्ट देने के लिए क़ौमी सलामती के मुशीर शिव शंकर मेनन लोक सभा में अप्पोज़ीशन की लीडर सुषमा स्वराज के घर पहुंचे. उन से मिलने के लिए राज्य सभा में हिज़ब-ए-इख़्तलाफ़ के रहनुमा और बी जे पी लीडर अरूण जेटली भी मौजूद थे.

वाज़िह रहे कि पाकिस्तान के माम‌ले पर वज़ीर-ए-आज़म ने हिज़ब-ए-इख़्तलाफ़ की लीडर सुषमा स्वराज से बात की थी. इस के बाद पीएम ने क़ौमी सलामती के मुशीर शिव शंकर मेनन से कहा है कि वो हिज़ब-ए-इख़्तलाफ़ के लीडरों से मिल कर उन्हें तहफ़्फ़ुज़
जुडी हुई मालूमात दें.

सुषमा ने डोइचे वेले फेसबुक पर लिखा था कि मैंने बुध को क़ौमी सलामती के मुशीर शिव शंकर मेनन से मुलाक़ात की. मैंने उनसे वज़ीर-ए-आज़म को ये पैग़ाम देने के लिए कहा कि एल ओ सी पर जो कुछ भी हुआ, वो नाक़ाबिल-ए-क़बूल है लेकिन हुकूमत की तरफ‌ से अभी तक कोई जवाब नहीं मिला है. हुकूमत को सख़्त इक़दामात करने चाहीए. ऐसी सूरत में हम हुकूमत की हिमायत करेंगे.

पीर को बी जे पी सदर नितिन गडकरी ने कहा था कि LOC के हालात पर पीएम को ख़ामोशी तोड़नी चाहीए. जबकि बी जे पी के रहनुमा मुख़तार अब्बास नक़वी की दलील थी कि हुकूमत को सख़्त कार्रवाई करनी चाहीए. यशवंत सिन्हा ने भी पाकिस्तान को उसी की ज़बान में जवाब देने का मुतालिबा किया है

TOPPOPULARRECENT