मदरसों से आतंकी नहीं, अधिकारी, इंजीनियर और नेता निकल चुके हैं: महंत राम दास

मदरसों से आतंकी नहीं, अधिकारी, इंजीनियर और नेता निकल चुके हैं: महंत राम दास
Click for full image

सेंट्रल शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी के मदरसों को लेकर दिए गए बयान के बाद चारो तरफ आलोचना हो रही है . देश भर के शिया और सुन्नी उलेमाओं के बाद अब दुसरे धर्म के लोग भी वसीम रिज़वी के बयान पर आपति दर्ज कराई है. वही  फैजाबाद के हिंदू ओर मुस्लिम धर्मगुरुओं ने भी कड़ी आलोचना की है.

न्यूज़ 18 की ख़बर के मुताबिक नाका हनुमानगढ़ी के महंत राम दास ने वसीम रिज़वी के बयानों की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि वसीम रिजवी को मदरसों पर इस तरह के बयान नहीं देनी चाहिए. उन्होंने कहा कि मदरसे में भी अच्छी तालीम होती है.

उन्होंने कहा मदरसों से आतंकी नहीं मदरसों से  अच्छे अधिकारी अच्छे इंजीनियर और नेता निकल चुके हैं. उन्होंने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने भी वहीं तालीम ली.  दूसरी तरफ शहर के मौलाना समीर हैदर ने कहा कि लगता है वसीम रिजवी ने मदरसे से तालीम नहीं हासिल की है. उन्होंने कहा कि वसीम रिजवी मदरसा जाकर तालीम का जायजा लें, फिर इस तरह का बयान दें. मौलाना ने कहा कि राजनीतिक फायदे के लिए वसीम रिजवी इस तरह का वक्तव्य दे रहे हैं, जो कि निंदनीय है.

 

Top Stories