Wednesday , September 26 2018

धर्म परिवर्तन के आरोप में 30 पादरी हिरासत में, ईसाई धर्मगुरुओं की जलाई गई कार

सांकेतिक

मध्यप्रदेश के सतना में कैरोल गा रहे 30 से ज्यादा पादरियों और को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। बजरंग दल ने आरोप लगाया कि वह धर्मांतरण करा रहे थे। शुक्रवार को राज्य के एंटी कन्वर्जन लॉ के तहत एक पादरी को गिरफ्तार कर लिया गया। जबकि कुछ पादरियों और सेमिनरीज को छोड़ दिया गया। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस परिसर में ही बजरंग दल के लोगों ने उनके साथ झगड़ा किया। वहीं पुलिस और बजरंग दल दोनों ने इससे इनकार किया है। शुक्रवार को सिविल लाइन्स पुलिस थाने में हिरासत में लिए गए लोगों के बारे में पूछने आए आठ पादरियों को भी हिरासत में ले लिया और उनकी कार जला दी गई।

पुलिस ने बताया कि उन्हें नहीं मालूम कि कार किसने जलाई है। उन्होंने यह भी कहा कि आईपीसी के सेक्शन 435 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। शुक्रवार को सेंट एफ्रफ थियोलॉजिकल कॉलेज में पढ़ाने वाले एम जॉर्ज और पांच अनजान लोगों पर धर्मेंद्र दोहर की शिकायत पर धर्म अधिनियम की स्वतंत्रता एवं धारा 153-बी और 295-ए के तहत मामला दर्ज किया गया था। दोहर का आरोप है कि उन्हें ईसाई बनने के लिए पैसा अॉफर किया गया था।

 

TOPPOPULARRECENT