Sunday , November 19 2017
Home / Khaas Khabar / ह्यूमन ट्रैफिकिंग के शक पर मदरसे के 200 बच्चों और टीचर्स को पुलिस ने हिरासत में लिया, पूछताछ करके छोड़ा

ह्यूमन ट्रैफिकिंग के शक पर मदरसे के 200 बच्चों और टीचर्स को पुलिस ने हिरासत में लिया, पूछताछ करके छोड़ा

गुवाहाटी एक्प्रेस से सफ़र कर रहे करीब दो सौ मदरसे के बच्चों और टीचर्स को बेंगलुरु कैंटोनमेंट रेलवे स्टेशन पर हिरासत में ले लिया गया। पुलिस को शक था कि यह ह्यूमन ट्रैफिकिंग का मामला हो सकता है।

हालाँकि आठ घटने की पूछताछ के बाद उन्हें छोड़ दिया गया। यह मामला बीते मंगलवार का है। इन बच्चों की उम्र 8 से 13 साल की बताई जा रही है।

कुर्ता पायजामा पहने और टोपी लगाए इन बच्चों को हिरासत के दौरान स्टेशन के वेटिंग हॉल में रखा गया। वहीँ वहां मौजूद कुछ लोगों ने भूखे-प्यासे बच्चों के खाने-पीने का भी इंतज़ाम किया।

डिप्टी पुलिस कमिश्नर के. जितेन्द्र ने बताया, यह बच्चे रमज़ान की छुट्टियाँ मनाकर वापस लौट रहे थे। पूछताछ और उनकी पहचान जानने के बाद उन्हें छोड़ दिया गया।

उन्होंने बताया कि यह बच्चे बेंगलुरु और आसपास के राज्यों के रहने वाले हैं। पुलिस को उनके कपड़ों और बोलचाल की भाषा से पहले शक हुआ कि इन बच्चों को बांग्लादेश से केरल ह्यूमन ट्रैफिकिंग के लिए ले जाया जा रहा है।

वहीँ, डेक्कन हेराल्ड की रिपोर्ट के मुताबिक़, पुलिस की यह कार्रवाई उस व्हाट्सप्प मैसेज का नतीजा है जिसमे अफवाह फैलाई जा रही है कि केरल ले जा कर बच्चों का धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है।

TOPPOPULARRECENT