Sunday , April 22 2018

महंत ज्ञानदास ने श्री श्री को फटकारा : हमें ऐसा मंदिर नहीं चाहिए जो खून की धार से बने

अयोध्या। हनुमानगढ़ी के महंत और अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत ज्ञानदास का बड़ा बयान सामने आया है। संतकबीरनगर जिले के खलीलाबाद में महंत ज्ञानदास ने मीडिया से बात करने के दौरान भारत को सीरिया बनाने वाले बयान पर श्री श्री रविशंकर पर पलटवार करते हुए कहा कि ये कोई संत नही हैं, वो सिर्फ बकवास करते हैं।

महंत ज्ञानदास ने कहा हमें ऐसा मंदिर नही बनाना चाहिये जो खून की धार से हो, बल्कि ऐसा मंदिर बने जो दूध की धार से हो। वो सरकार के इशारे पर बोलते हैं। रविशंकर प्रधानमंत्री के नजरों में अच्छा बनना चाहते हैं। अयोध्या में वो मुझसे मिलने आये थे लेकिन हमने उनको भगा दिया।

जब मामला कोर्ट में चला रहा है तो अब श्री श्री और फ्री फ्री का कोई मतलब नहीं है। वहीं दोनों सरकारों पर चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा कि अब तो केंद्र और प्रदेश में दोनों जगह सरकार है, अशोक सिंघल जो चाह रहे थे वो हो जाता। अब क्या दिक्कत है। रहे रविशंकर वो समझौते के नाम पर लोगों को मूर्ख बना रहे हैं।

महंत ज्ञानदास ने अशोक सिंघल, विनय कटियार और राम विलास वेदांती को राम बन्दिर बनने में बाधक बताते हुए कहा कि तीन हिस्से में बांटने के लिए 2010 में कोर्ट का एक निर्णय आया था जिस पर हम लोगों ने पहल की थी जिससे ये लग रहा था कि राममंदिर बन जाएगा लेकिन अशोक सिंघल, विनय कटियार और राम विलास वेदांती इसमें बाधक बन गए।

अब जो कुछ भी होगा कोर्ट से होगा। अयोध्या में राम मंदिर बनना ही चाहिए। नेताओं पर भी चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा कि ये लोग बयानबाजी करके हिंदू मुस्लिम को बांटने वाला काम करते हैं।

TOPPOPULARRECENT