भीड़ हमला करने वालों में भाजपा कार्यकर्ताओं की बहुमत

भीड़ हमला करने वालों में भाजपा कार्यकर्ताओं की बहुमत
Click for full image

नई दिल्ली: भीड़ हिंसा को अंजाम देने वाले अपराधियों का केंद्रीय मंत्री की ओर से स्वागत किये जाने के मामले पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई, जिस पर विपक्ष कांग्रेस ने सवाल उठाए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खमोशी पर विपक्ष कांग्रेस ने ज़ोरदार हमला किया है और आरोप लगाया है कि यह चुप्पी इसलिए है क्योंकि भीड़ हमले में भाजपा के कार्यकर्ता ज्यादा हैं।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

एआईसीसी अध्यक्ष ऑफिस में कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता और पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी ने प्रेस कांफ्रेंस से ख़िताब किया और प्रधानमंत्री को कड़ी आलोचना का निशाना बनाया।

मिस्टर तिवारी ने कहा कि जब भीड़ हमला करने वालों का स्वागत किया जाएगा, उन्हें फूल माला पहनाई जाएगी तो फिर भीड़ हिंसा में वृद्धि होना तय है। कांग्रेस प्रवक्ता ने अपनी प्रेस कांफ्रेंस में महाभारत का हवाला दिया और कहा कि आज बिलकुल ऐसा ही हो रहा है कि एक ओर इज्जत लूटी जा रही है और दूसरी ओर धृतराष्ट्र खामोश हैं।

कांग्रेस को रोको भाजपा से और खुद को पांड्वों से ताबीर किया और कहा कि जुम्लाबजों की नहीं बल्कि सच बोलने वालों की जीत होती है। उन्होंने भाजपा नेता राज कुमार सैनी के बयान का ज़िक्र करते हुए कहा कि उनका कहना है कि अगर यह स्थिति रही तो 2019 में भाजपा 90 फीसद सीट हार जायेगी।

Top Stories