Monday , December 11 2017

अगर रोज़े में शामिल होना मेरे धर्म के खिलाफ है तो मैं हमेशा शामिल रहूंगी: ममता बेनर्जी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बेनर्जी ने आज जलपैगुरी स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में रैली को सम्बोधित करते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल में हर धर्म के लोगो के लिए स्थान हैं। यहाँ पर हिन्दू, मुस्लिम, ईसाई, आदिवासी, हिंदी भाषी और उर्दू भाषी के लोग रहते हैं।

ममता ने खुद का उदाहरण देते हुए कहा कि वो दुर्गा पूजा करती हैं और साथ ही शाम में इफ्तार पार्टी में भी जाती है और क्रिसमस पर रात को उत्सव में भी शामिल होती हैं। उन्होंने कहा कि मैं रोज़े में शामिल होती हूँ और इसके कारण बहुत लोग मुझे धर्मविरोधी भी कहते हैं लेकिन सिर्फ रोज़े में शामिल होना अगर मेरे धर्म के खिलाफ है तो मैं हज़ार बार इसमें शामिल रहूंगी। ममता ने कहा कि मैं ऐसे धर्म में यक़ीन नहीं रखती जो प्रेम को बढ़ावा नहीं देता।

भाजपा और आरएसएस की ओर ईशारा करते हुए ममता ने कहा कि वो गुंडागर्दी की राजनीती नहीं करती हैं। मैं दुर्गा पूजा करती हूँ और गर्व से बताती भी हूँ। दूसरे राजनैतिक व्यक्तियों के तरह मुझे कोई झिझक नहीं है मैं गुंडागर्दी की राजनीती नहीं करती हूँ।

बेनर्जी ने आगे कहा, हमे गर्व है कि हम बंगाल की मिटटी में पैदा हुए हैं। ये इतनी कठोर मिटटी है कि यहाँ पर किसी पाखण्डी के लिए कोई जगह नहीं है। यहा पर पुनर्जागरण काल का आरम्भ हो चुका है। याद रहे हम आपस में विभाजन नहीं करेंगे और बंगाल किसी धमकी से नहीं डरेगा।

TOPPOPULARRECENT