Saturday , November 18 2017
Home / Uttar Pradesh / योगी से मुलाक़ात के बाद मीट कारोबारियों ने ख़त्म की हड़ताल

योगी से मुलाक़ात के बाद मीट कारोबारियों ने ख़त्म की हड़ताल

गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करने के बाद पांच दिन से हड़ताल पर बैठे मीट व्यापारियों ने हड़ताल खत्म करने की घोषणा की है।
हाल ही में नए नियुक्त हुए उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा अवैध बूचड़खानों के खिलाफ सख्ती के बाद सभी मीट व्यापारी हड़ताल पर चले गए थे। मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद मीट कारोबारियों के प्रतिनधि सिराजुद्दीन कुरैशी ने कहा मैं सभी से काम पर लौटने की अपील करता हूं।
लाइसेंस लेकर काम शुरू करें सरकार इसमें मदद करेगी। लखनऊ में मुख्यमंत्री के साथ करीब आधे घंटे चली बैठक के बाद यूपी सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि बैठक अच्छी और सकारात्मक रही।
उन्होंने कहा की मुख्यमंत्री ने मीट व्यापारियों से काम पर लौटने को कहा। सरकार की ओर से स्पष्ट किया गया कि कारोबारियों को एनजीटी के आदेश का पालन करना होगा। सीएम ने आदेश दिया है कि अधिकारी जाति-धर्म देखकर कार्रवाई ना करें।
सिद्धार्थनाथ सिंह ने यह भी कहा कि बैठक में मौजूद सभी प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का समर्थन किया और कहा कि भारतीय नागरिक के तौर पर सभी कि जिम्मेदारी है कि कुछ भी अवैध होने की छूट ना दी जाए।
मीट कारोबारियों का नेतृत्व करने वाले सिराजुद्दीन कुरैशी ने बताया कि हमने अपनी परेशानियां सीएम को बताईं। हमने उनसे कहा कि मीट कारोबारियों से अवैध वसूली की जाती है। मुख्यमंत्री ने हमारी बात को ध्यान से सुना और भरोसा दिलाया कि जाति या धर्म के नाम पर भेदभाव नहीं किया जाएगा। दुकानदार लाइसेंस के लिए आवेदन करें। सरकार ने बूचड़खानों को आधुनिक बनाने की बात भी कही है।
TOPPOPULARRECENT