मिलिए देश के सबसे युवा IAS अधिकारी अंसार शेख से जिन्होंने साबित किया “मेहनत ही सफलता की कुंजी है”

मिलिए देश के सबसे युवा IAS अधिकारी अंसार शेख से जिन्होंने साबित किया “मेहनत ही सफलता की कुंजी है”

दुनिया में कुछ लोग ऐसे होते हैं जो मुश्किल से मुश्किल हालातों में भी पूरी लगन और मेहनत से वो सब हासिल कर लेते हैं जो हालात उन्हें देना नहीं चाहते साल 2015 की यूपीएससी परीक्षा पास कर देश के सबसे छोटी उम्र में आईएएस बनने वाले अंसार अहमद शेख भी ऐसे ही एक शख्श हैं। एक ऑटो रिक्शा ड्राइवर के घर जन्म लेने वाले अंसार बचपन से ही काफी मेहनती थे।

2015 में परीक्षा पास करने के बाद अकादमी ज्वाइन करने वाले अंसार अब आईएस का पश्चिम बंगाल का कैडर ज्वाइन कर चुके हैं।

बताया जाता है  कि इससे पहले श्री रोमन सैनिनी सबसे कम उम्र के आईएएस अधिकारी थे, जिन्होंने 22 वर्ष की आयु में 2013 में एक ही परीक्षा दी थी।  

एक सभा को संबोधित करते हुए अंसार ने अपनी पढ़ाई के दौरान आने वाली कठिनाइयों का विवरण दिया। उन्होंने अपने परिवार की वित्तीय स्थिति के बारे में भी बताया जब वह अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए संघर्ष कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि उनके पिता एक ऑटोरिक्शा चालक थे, जो रुपये कमाते थे। 100-150 प्रति दिन। कई बार उनका परिवार रात का खाना या नाश्ता छोड़ देता था।

अंसार ने कहा अल्लाह ने मेरी और मेरे परिवार और दोस्तों की दुआओं को क़ुबूल करते हुए मुझे देश की सेवा करने का यह मौक़ा दिया है जिसे मैं पूरी ईमानदारी से निभाउंगा।

Top Stories