महबूबा मुफ्ती कश्मीर में चीनी घुसपैठ के अपने दावे को परिभाषित करें: उमर अब्दुल्ला

महबूबा मुफ्ती कश्मीर में चीनी घुसपैठ के अपने दावे को परिभाषित करें: उमर अब्दुल्ला
Click for full image

श्रीनगर: नेशनल कांफ्रेंस के कार्यकारी अध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने कहा है कि महबूबा मुफ्ती को कश्मीर की बिगड़ती सुरक्षा स्थिति में चीन की भागीदारी होने के दावे का खुलासा करना चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्य में छह साल तक बतौर मुख्यमंत्री कमान संभालने के दौरान उन्हें कभी इसकी गोपनीय जानकारी प्रदान नहीं की गई। कि चीन कश्मीर के मामलों में हस्तक्षेप कर रहा है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

उन्होंने कहा कि उन्हें केवल यह गोपनीय जानकारी प्रदान की जाती थी कि चीन कभी कभी क्षेत्र लद्दाख में घुसपैठ करता है। उमर अब्दुल्ला ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर अपने सिलसिलेवार ट्वीट में कहा कि ‘महबूबा मुफ्ती को परिभाषित करना चाहिए कि जम्मू-कश्मीर विशेषकर घाटी में बिगड़ती सुरक्षा स्थिति में चीन की भागीदारी की प्रकृति क्या है’।

पत्रकार सुशांत सिंह के ट्वीट कि ‘महबूबा मुफ्ती के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी चीन की घुसपैठ का मुद्दा उठाया’ कि प्रतिक्रिया में उमर अब्दुल्ला ने लिखा ‘दो मुख्यमंत्रियों ने चीनी घुसपैठ का मामला उठाया है।संसद को इस घुसपैठ पर चर्चा करने की सरकार की जिम्मेदारी बनती है।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री सुश्री मुफ्ती ने 15 जुलाई को नई दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से उनके आवास पर मुलाकात के बाद संवाददाताओं को बताया कि ‘राज्य सरकार कानून व्यवस्था की लड़ाई नहीं लड़ रही है। जो लड़ाई हो रही है, इसमें बाहरी शक्तियां शामिल हैं और अब तो चीन ने भी बीच में आकर हाथ डालना शुरू कर दिया है ‘।

Top Stories