अल्लाह के रसूल फरमाते हैं कि मुसलमान सफेद लिबास पहना करे

अल्लाह के रसूल फरमाते हैं कि मुसलमान सफेद लिबास पहना करे

अब्दुल्लाह बिन मसूद रदी अल्लाहू अन्हु से ये रिवायत है कि अल्लाह के रसूल (स.अ.व.) ने फरमाया है ऐसा शख्श जन्नती नहीं बन पायेगा जिसमे ज़र्रे बराबर भी गुरूर हो या घमंड होगा। अल्लाह के रसूल नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम फरमाते हैं कि मुसलमान लोगों को हमेशा सफ़ेद लिबास पहनना चाहिए।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

आपकी यह बात सुनकर एक शख्स ने सवाल किया कि हर आदमी यह चाहता है की उसके कपड़े अच्छे हो और जूते भी अच्छे हो तो क्या इसको भी गुरुर माना जाएगा? उसकी यह बात सुनकर आप सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने जवाब दिया की गुरूर या घमंड का मतलब ये नहीं।

अल्लाह रब्बुल आलमीन हमेशा खूबसूरती को पसंद करते हैं। घमंड यह होता है कि जो इंसान हक बात को नाहक बता दे या फिर अपने से जुदा लोगों को कुछ न समझे या फिर अपने से कमजोर या कम पैसे वाले को इज्जत ना दे। सही मुस्लिम, जिल्द 1,#265

जामिया तिरमिज़ी, जिल्द 2, 723-सही समुरा रदी अल्लाहू अन्हु से रिवायत है की रसूल-अल्लाह सलअल्लाहू अलैही वसल्लम ने फरमाया तुम लोग सफेद लिबास पहना करो, अपने ज़िंदा लोगो को भी सफेद लिबास पहनाओ और मुर्दों को भी इसमें (सफेद कपड़े में) कफ़न दो क्योंकि ये सब लिबासो में बेहतरीन लिबास हैसुनन नसाई है, जिल्द 3,1624-सही

Top Stories