#MeToo पर बप्पी लाहिड़ी का बयान, ‘सालों बाद महिलाएं क्या साबित करना चाहती हैं’

#MeToo पर बप्पी लाहिड़ी का बयान, ‘सालों बाद महिलाएं क्या साबित करना चाहती हैं’
Click for full image

बॉलीवुड के गायक-संगीतकार बप्पी लाहिड़ी का मानना है कि महिलाओं को यौन उत्पीड़न की शिकायत उस वक्त करनी चाहिए थी, जब यह घटना उनके साथ हुई. उन्हें लगता है कि तब महिलाओं को इसके लिए न्याय मिलता. बप्पी हाल ही में ‘मौसम इकरार के दो पल प्यार के’ के म्यूजिक लॉन्च पर पहुंचे. उनके साथ इस फिल्म के मुकेश भारती और मंजू भारती और निर्देशक पार्थो घोष भी वहां मौजूद थे.

‘मीटू’ (#MeToo) के बारे में बप्पी ने कहा, “भारत में हम महिलाओं का सम्मान करते हैं चाहे वह मां हो, बहन हो, बेटी हो या पत्नी हो. मैं हर साल छह महीने अमेरिका में रहता हूं, लेकिन मुझे नहीं लगता कि हमारे देश जैसी खूबसूरत संस्कृति पूरी दुनिया में कहीं और है. मीटू मूवेमेंट हॉलीवुड में चल रहा है, लेकिन भारत में महिलाएं मीडिया और सोशल मीडिया पर दशकों पुरानी घटनाएं सामने ला रहीं हैं.”

उन्होंने कहा, “इसलिए मेरा कहना यह है कि उस वक्त मामला क्यों नहीं उठाया गया था. जब हुआ था, तब शिकायत क्यों नहीं दर्ज करवाई, एफआईआर क्यों नहीं लिखवाई गई? अगर इन चीजों का खुलासा पहले होता तो उन्हें इसके लिए न्याय मिलता.” उन्होंने कहा, “हम ‘मौसम इकरार के दो पल प्यार के’ फिल्म का संगीत लॉन्च कर रहे हैं. अगर इस फिल्म के बारे में हम 10 साल बाद बात करेंगे तो इसका कोई मतलब नहीं होगा.”

Top Stories