बाबरी मस्जिद पर पुर्नविचार याचिका: अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष ने दिया बड़ा बयान!

बाबरी मस्जिद पर पुर्नविचार याचिका: अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष ने दिया बड़ा बयान!

अयोध्या फैसले पर राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग ने एआईएमआईएम के अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी पर निशाना साधा है।

ज़ी न्यूज़ पर छपी खबर के अनुसार, आयोग के अध्यक्ष ग्यूरुल हसन रिजवी का मानना है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दायर करना मुस्लिम समाज के लिए ठीक नहीं है।

उन्होंने मंदिर निर्माण में हिंदू समुदाय की सहायता किए जाने की भी अपील की है। उन्होंने सीधे तौर पर कहा ओवैसी बस अपनी राजनीति चलने देना चाहते हैं। इसलिए ऐसी बयानबाजी कर रहे हैं।

इससे हिंदू-मुस्लिम एकता को नुकसान पहुंचेगा। मुस्लिम पक्ष को मस्जिद के लिए दी गई पांच एकड़ की भूमि स्वीकार करनी चाहिए। उन्होंने एक इंटव्यू में कहा कि ऐसा न करने से गलत संदेश जाएगा।

आयोग के अध्यक्ष ने कहा कि फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल करने से समाज के बीच यह संदेश जाएगा कि राम मंदिर निर्माण के रास्ते में मुस्लिम समुदाय बाधा खड़ी कर रहा है।

मुस्लिम समुदाय से पांच एकड़ जमीन स्वीकार करने की अपील करते हुए रिजवी ने कहा कि ऐसा करके वे न्यायपालिका का सम्मान करेंगे। अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष ने कहा कि देश का आम मुस्लिम भी इस याचिका के पक्ष में नहीं है।

क्योंकि वह नहीं चाहता कि जो मामले सुलझ गए हैं उन्हें फिर उठाया जाए। समुदाय ऐसी बातों में फंसे रहना नहीं चाहता है।

हैदराबाद सांसद ओवैसी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ओवैसी मुस्लिमों का इस्तेमाल करते हुए राजनीति करना चाहते हैं। वह चाहते हैं कि मुस्लिम इन्हीं सब मुद्दों में उलझे रहें और उन्हें वोट मिलता रहे।

साभार- ज़ी न्यूज़

Top Stories