यहां किसान कर्ज़ माफ़ी के लिए प्रदर्शन कर रहे थे वहां तमिलनाडु सरकार ने विधायकों की सेलरी दोगुनी से भी ज्यादा कर दी

यहां किसान कर्ज़ माफ़ी के लिए प्रदर्शन कर रहे थे वहां तमिलनाडु सरकार ने विधायकों की सेलरी दोगुनी से भी ज्यादा कर दी
Click for full image

तमिलनाडू का किसान अपनी बदहाली के लिए दिल्ली के जंतर मंतर पर प्रदर्शन कर रहा था वहां तमिलनाडु सरकार ने अपने विधायकों की सेलरी डबल से भी ज्यादा कर दी । इससे पहले किसान जंतर मंतर पर कई दिनों तक प्रदर्शन करता है, तब जाकर तमिलनाडू सरकार की कान पर जू रेंगती है लेकिन राज्य सरकार अपने विधायकों का पूरा ख्याल रखती है ।

बुधवार को तमिलनाडू सरकार ने राज्य के विधायकों की तनख्वाह दोगुनी से ज्यादा कर दी है ।विधायकों की तनख्वाह 105,000 प्रति माह कर दी गई है । राज्य के मुख्यमंत्री इदाप्पादी के. पलानीस्वामी ने विधानसभा को बताया कि विधायकों को इस समय प्रतिमाह 50,000 रुपये सेलरी है। बेसिक और अन्य भत्तों में वृद्धि के कारण यह अब इससे दोगुना हो जाएगा।

पूर्व विधायकों की प्रतिमाह पेंशन 12,000 से बढ़ाकर 20,000 रुपये कर दी गई है। यह बदलाव 1 जुलाई, 2017 से लागू होगा। पलानीस्वामी ने राज्य के मुख्यमंत्री, मंत्रियों और विधानसभा स्पीकर के भत्तों में 25,000 रुपये प्रतिमाह की वृद्धि करने की भी घोषणा की।

विधानसभा के उपाध्यक्ष, विपक्ष के नेता और मुख्य सचेतक के भत्तों में भी वृद्धि की गई है। अब यह वृद्धि के साथ 47,500 रुपये प्रति माह हो गए हैं। विधानसभा क्षेत्र विकास निधि को 50 लाख से बढ़ाकर 2.50 करोड़ रुपये कर दिया गया है।

हालांकि, कर्ज माफी की मांग को फिर से उठाते हुए राज्य के किसानों ने दिल्ली में दोबारा विरोध प्रदर्शन किया। कुछ महीने पहले सरकार द्वारा उनके मामले को देखे जाने का आश्वासन मिलने के बाद उन्होंने अपना प्रदर्शन रोक दिया था। राज्य के किसान कर्ज माफी और अपने उत्पादों के लिए बेहतर कीमतों की मांग कर रहे हैं।

Top Stories