मोदी के मंत्री का बयान- ‘किसी सरकार को यह तय करने का हक़ नहीं कि कौन क्या खाएगा’

मोदी के मंत्री का बयान- ‘किसी सरकार को यह तय करने का हक़ नहीं कि कौन क्या खाएगा’
Click for full image

हत्या के लिए पशुओं की खरीद-फरोख्त पर केन्द्र सरकार की ओर से बैन लगाने के बाद देशभर में शुरू विरोध प्रदर्शन के बीच अब खुद मोदी सरकार के एक मंत्री ने सरकार के फैसले को गलत बताया है। गृह राज्य मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने कहा है कि किसी सरकार को यह तय नहीं करना चाहिए कि कौन क्या खाएगा।

केंद्र के फैसले का विरोध करने के लिए कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की ओर से केरल में खुलेआम एक बछड़ा काटने के सम्बन्ध में बुधवार को पूछे गए एक सवाल के जवाब में उनकी यह टिप्पणी आई है।

केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि सरकार यह तय नहीं करती कि लोगों को क्या खाना चाहिए और क्या नहीं।

बता दें कि मद्रास हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार के मांस के लिए मंडी में पशुओं की खरीद फरोख्त पर रोक लगाने के फैसले पर रोक लगा दिया है।

कोर्ट ने केंद्र सरकार और राज्य सरकार से चार हफ्ते में जवाब देने को कहा है। दरअसल, मद्रास हाईकोर्ट की मदुरै बेंच में केंद्र सरकार के नोटिफिकेशन के खिलाफ एक याचिक दायर की गई थी।

इसमें कहा गया था कि खाने की पसंद व्यक्ति का बुनियादी हक है। मदुरै के ही एक वकील ने केंद्र सरकार के नोटिफिकेशन के खिलाफ जनहित याचिका दायर की थी।

Top Stories