Monday , April 23 2018

कोलकाता : तीन तलाक विधेयक के विरोध में 30 हजार से अधिक महिलाओं ने किया प्रदर्शन

मंगलवार को 30,000 से अधिक मुस्लिम महिलाओं ने तीन तलाक बिल का विरोध किया और सरकार से इस बिल को वापस लेने की मांग की। हजारों की संख्या में महिलायें तीन तलाक विरोध में सड़क पर निकली और विरोध में नारेबाजी करते हुए बिल को वापस लेने की मांग की।

बुर्का और नकाब पहने महिलायें कोलकाता में रफी अहमद किदवई रोड पर मुस्लिम इंस्टीट्यूट हॉल में एकत्रित हुईं जहां महिलाओं ने कहा कि यह विधेयक शरिया या इस्लामी कानून में हस्तक्षेप है। बाद में, वे एस्प्लानाड क्षेत्र में रानी रश्मनी एवेन्यू गए और छह महिलाओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने गवर्नर केसरी नाथ त्रिपाठी को एक ज्ञापन दिया।

उन्होंने कहा, विधेयक की सामग्री भारत के संविधान के खिलाफ है, यह महिला विरोधी और बच्चों के खिलाफ है। इस मौके पर आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) के सदस्य मौलाना अबू तालिब रहमानी ने कहा कि वे मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आभारी हैं क्योंकि टीएमसी सांसदों ने इस विधेयक का राज्य सभा में विरोध किया था।

ऑल बंगाल मुस्लिम विमेन एसोसिएशन की सचिव सुबौजी अजीज ने कहा कि वे चाहते हैं कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री अधिक मुखर हो। हमें उम्मीद है कि ममता बनर्जी हमारी सहायता करेंगीं। उन्होंने कहा कि हम शरिया या इस्लामी कानून में कोई बदलाव नहीं चाहते।

TOPPOPULARRECENT