Monday , December 18 2017

MP के सहाफी को जिंदा जलाया

बालाघाट: यूपी के बाद अब महाराष्ट्र में एक सहाफी को जिंदा जलाने की सनसनीखेज मामला सामने आया है। खबरों के मुताबिक मारा गया सहाफी मध्यप्रदेश के बालाघाट का रहने वाला था। और खनन माफिया और चिटफंड घोटलों के खिलाफ मुसलसल खबरें दे रहा था

बालाघाट: यूपी के बाद अब महाराष्ट्र में एक सहाफी को जिंदा जलाने की सनसनीखेज मामला सामने आया है। खबरों के मुताबिक मारा गया सहाफी मध्यप्रदेश के बालाघाट का रहने वाला था। और खनन माफिया और चिटफंड घोटलों के खिलाफ मुसलसल खबरें दे रहा था। इल्ज़ाम है कि खनन माफिया के तीन गुर्गों ने सहाफी संदीप कोठारी का बालाघाट से अगवा कर लिया और उसे नागपुर ले जाकर जिंदा जला दिया।

सहाफी की जली हुई लाश महाराष्ट्र में वर्धा के करीब एक खेत में मिला। कटंगी के एसडीओपी जे एस मरकाम ने बताया कि इस सिलसिले में पुलिस ने कटंगी के 3 रहने वाले तीन लोगों राकेश नसवानी, विशाल दांडी और बृजेश डहरवाल को गिरफ्तार किया है,

जिन पर इल्ज़ाम है कि उन्होंने सहाफी संदीप कोठारी का अगवा कर उसे जिंदा जला दिया था। उन्होंने कहा कि पुलिस को मालूम चला है कि तीनों गिरफ्तार मुल्ज़िम गैर कानूनी कानकनी (कानूनी खनन /Illegal mining) और चिटफंड के कारोबार से जु़डे हुए हैं और सहाफी पर उनके खिलाफ Illegal mining का एक मुकामी अदालत में दर्ज एफ आर्\ वापस लेने का दबाव बना रहे थे।

पुलिस को शक है कि संदीप इसके लिए राजी नहीं था और शायद उसे इसकी ही कीमत चुकानी प़डी है। मकराम ने कहा कि हम सभी नज़रियात को ध्यान में रखकर वाकिया का जायज़ा कर रहे हैं और कटंगी पुलिस की एक टीम इस वक्त वर्धा में है। हालांकि सहाफी संदीप के अगवा करने और क़त्ल पर किसी फैसले पर अभी पहुंचना जल्दबाजी होगी।

उन्होंने बताया कि संदीप कोठारी 19 जून की रात 9 बजे अपनी मोटरसाइकिल से मित्र ललित राहंगडाले के साथ उमरी गांव की ओर जा रहा था, तभी किसी चार पहिया वाली गाड़ी ने मोटरसाइकिल को टक्कर मारी और उसमें सवार लोगों ने ललित को मारपीट कर भगा दिया और संदीप को अगवा कर ले गए। एसडीओपी ने कहा कि पुलिस ने उस कार को बरामद कर लिया है, जिससे संदीप का अगवा किया गया था।

गौरतलब है कि संदीप, जबलपुर स्थित कुछ अखबारों के लिए कटंगी तहसील में नामानिगार का काम कर चुका है और पिछले कुछ दिनो से आज़ाद साहाफियत कर रहा था

TOPPOPULARRECENT