Saturday , November 18 2017
Home / Delhi News / सरकार जब कालाधन रखने वालों को समय दे सकती है तो बूचड़खानों को क्यों नहीं?- असदुद्दीन ओवैसी

सरकार जब कालाधन रखने वालों को समय दे सकती है तो बूचड़खानों को क्यों नहीं?- असदुद्दीन ओवैसी

एआईएमआईएम चीफ़ और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने आज यूपी में अवैध बूचड़खानों को बंद करने पर सवाल उठाए हैं। ओवैसी ने कहा कि ऐसा करके राज्य सरकार समुदाय विशेष के लोगों को निशाना बना रही है। उन्होंने कहा कि रातों-रात यह फैसला लेना सही नहीं है क्योंकि यह एक आर्थिक मुद्दा है।

असदुद्दीन ओवैसी ने आगे कहा कि अवैध बूचड़खानों को जल्दबाजी में बंद करने के बजाय सरकार को उन्हें नियमित करने के लिए समय देना चाहिए। ये सपा सरकार की गलती है कि उसने बूचड़खानों को नियमित नहीं किया।

ओवैसी ने कहा कि इससे व्यवसाय से जुड़े लोगों को बड़ा नुकसान होगा। अगर यह अवैध है तो इसे वैध बनाना चाहिए या वैध बूचड़खानों की क्षमता बढ़ाई जानी चाहिए ताकि इस पेशे से जुड़े लोगों को आर्थिक नुकसान न हो। उन्होंने कहा कि यदि सरकार कालाधन जमा रखने वालों को अपनी संपत्ति घोषित करने और उसे वैध बनाने का समय दे सकती है तो फिर बूचड़खानों को नियमित करने के लिए समय क्यों नहीं दिया जा सकता? इसका मतलब ये है कि वे किसी खास समुदाय को निशाना बना रहे हैं।

उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि उत्तर प्रदेश में न केवल अवैध बल्कि कुछ वैध बूचड़खाने भी बंद किए जा रहे हैं। सरकार के इन कदम से आर्थिक समस्याएं पैदा होंगी।

TOPPOPULARRECENT