मुंबई दुर्घटना: लाशों के माथे पर नंबर लिखने पर अस्पताल प्रशासन की कड़ी आलोचना, परिजन सख्त नाराज़

मुंबई दुर्घटना: लाशों के माथे पर नंबर लिखने पर अस्पताल प्रशासन की कड़ी आलोचना, परिजन सख्त नाराज़
Click for full image

मुंबई। मुंबई में अल्फ़सटन रेलवे स्टेशन पर शुक्रवार फुट ऑवर पुल पर होने वाली भगदड़ में मरने वालों की संख्या बढ़कर 23 हो चुकी है, जबकि मुंबई के किंग एडवर्ड मेमोरियल अस्पताल प्रशासन की निंदा की जा रही है। क्योंकि उसने मृत लोगों के माथे पर नंबर दर्ज किया है।जिसकी वजह से विवाद खड़ा हो गया है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

मुंबई के ईएम अस्पताल ने शवों के माथे पर नंबर लिख दिए उनकी तस्वीरों को पब्लिक डिस्प्ले पर चिपका दिया गया है, मृतकों के परिजन अस्पताल के इस हरकत से सख्त नाराज हैं और वे अस्पताल के इस व्यवहार पर उसे निशाना बनाया जा रहा है।

हालांकि अस्पताल प्रशासन ने दावा किया है कि अफरातरफी से बचने के लिए ऐसा किया गया था। असपताल प्रशासन ने कहा कि फ्लेक्स बोर्ड पर तस्वीर चिपकाने का उद्देश्य यह था कि लोग अपने रिश्तेदारों को आसानी से पहचान सकें। सोशल मीडिया पर कहा गया है कि भगदड़ खतरनाक है, लेकिन अस्पताल का रवैया अधिक दुख भरा है। अस्पताल प्रशासन ने कहा कि 22 शवों की पहचान करने के लिए बहुत मुश्किल है क्योंकि लोग बड़ी संख्या में आ रहे थे, इसलिए एसा किया गया था।

Top Stories