Sunday , November 19 2017
Home / Uttar Pradesh / UP: बिना इलाज मर गईं गौ माता, फिर भी गौरक्षकों ने नहीं ली सुध तो मुसलमानों ने किया अंतिम संस्कार

UP: बिना इलाज मर गईं गौ माता, फिर भी गौरक्षकों ने नहीं ली सुध तो मुसलमानों ने किया अंतिम संस्कार

मौजूदा समय में जब गौरक्षक मुसलमानों पर आए दिन गौतस्करी या फिर गाय का मांस खाने का फर्जी आरोप लगाकर देश भर में आतंक मचा रह हैं। इस बीच बरेली के मुसलमानों ने गौरक्षकों के पाखंड और अपने ऊपर लगाए जा रहे तमाम आरोपों का खूबसूरत जवाब देकर मिसाल कायम की है।

दरअसल हुआ कुछ यूँ कि बरेली के एक गाँव में एक गाय काफी दिनों से बीमार घूम रही थी। लेकिन इलाके में किसी ने भी उसकी सुध नहीं ली। कोई गौरक्षा दल उसकी मदद के लिए सामने नहीं आया।

आखिरकार बिना इलाज और देखभाल के इस बीमार गाय की मौत हो गई। इसके बाद भी कोई गौरक्षक या गाय प्रेमी उसका दफ़न-कफ़न करने आगे नहीं आया। गाय की लाश पड़ी-पड़ी सड़ती रही।

बदबू आने के डर से मजबूरन लोगों ने उसे ठिकाने लगाने की सोची और नगर निगम को इसकी सूचना दी लेकिन नगर निगम ने इसे अनसुना कर दिया।

इस बीच समाज सेवा मंच के अध्यक्ष नदीम शम्सी को इस बात की जानकारी मिली तो वह अपनी टीम के साथ वहां आये और गाय का अंतिम संस्कार किया।

गाय की मौत पर दुख जताते हुए नदीम शम्सी ने कहा कि अगर उन्हें इस बारे में पहले पता चल जाता तो वह बीमार गाय का इलाज जरूर करवाते।

इसके साथ ही उन्होंने इलाकावासियों से अपील की, “अगर कहीं भी किसी शख्स को मरी हुई गाय मिलती है तो वह उन तक सूचना पहुंचा दे ताकि हम गाय का अंतिम संस्कार किया जा सके।”

 

TOPPOPULARRECENT